Scrollup

*क्या इस देश के बनिया, पूर्वांचली और मुसलमानों को वोट डालने का अधिकार नहीं है : आतिशी*

*अब भाजपा के लिए बनिया और पूर्वांचली नए मुसलमान हो गए हैं : आतिशी*

*बनियों ने जितना चंदा भाजपा को दिया, वो चंदा वापस करे भाजपा: राजेश गुप्ता*

Dec 5, बुधवार, पार्टी कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता और ईस्ट दिल्ली की प्रभारी आतिशी ने कहा कि अब तक जैसे BJP मुसलमानों के खिलाफ काम करती थी, बिल्कुल उसी तरीके को अपनाते हुए BJP ने बनिया और पूर्वांचली समाज के खिलाफ काम शुरू कर दिया हैं। इसका उदाहरण दिल्ली में BJP द्वारा काटे जा रहे बनियों और पूर्वांचल के लोगों के वोट हैं।

 

आतिशी ने भाजपा के नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता और विधायक सिरसा पर हमला बोलते हुए कहा है कि हम विजेंद्र गुप्ता से कहना चाहते हैं कि आप चुनाव आयोग को कहिये कि भाजपा के कहने पर उन्होंने अपनी वैबसाइट से जो काटे गए नामो की लिस्ट हटा दी है वह दुबारा अपलोड करें, और आप उस लिस्ट को डाउनलोड करके हमारे डाटा से मिलान कर लें।

हमने इस सर्वे में “सरनेम” के आधार पर जांच की। जांच करने पर कुछ चौकाने वाले नतीजे सामने आए। दरअसल इन काटे गए नामो में मुख्य तौर पर तीन सामुदायों के लोगो के नाम बहुत अधिक मात्रा में काटे गए हैं। इनमे मुख्य तौर पर बनिया समाज, पूर्वांचल समाज, और मुस्लिम समाज के वोट बहुत अधिक मात्रा में काटे गए हैं। उदहारण के तौर पर जंगपुरा में जहाँ पर 27 हज़ार लोगो के नाम काटे गए हैं वहां पर 5 हज़ार से ज्यादा बनियों के, लगभग 5 हज़ार मुस्लिम के, और लगभग साढ़े 8 हज़ार वोट पूर्वांचलियों के हैं। इसी प्रकार से लक्ष्मीनगर जहाँ पर 44 हज़ार लोगो के नाम काटे गए थे वहां 10 हज़ार बनियों के वोट, 5 हज़ार मुस्लिम् वोट, और 14 हज़ार वोट पूर्वांचलियों के काटे गए।

मीडिया के माध्यम से आतिशी ने विजेंद्र गुप्ता को चुनौती देते हुए कहा कि आप खुद चुनाव आयोग से काटे गए नामो का डाटा लें, और उसकी जांच अपने स्तर पर करलें। आप खुद भी बनिया समाज से ही आते हैं, देखिये की भाजपा ने कितने बड़े स्तर पर दिल्ली में से बनिया समाज के वोट काटे हैं। भाजपा ने ये पहली बार नहीं किया है। सभी जानते हैं की भाजपा हमेशा से ही मुसलमानों के खिलाफ काम करती आई है। गुजरात में भी भाजपा मुस्लिम बाहुल्य इलाको में से बहुत अधिक मात्रा में मुसलमानों के वोट कटवा कर चुनाव जीतती रही है। यह एक जाँची परखी रणनीति हैं।

पूरा देश यह समझता था की भाजपा केवल मुसलमानों के खिलाफ ही काम करती है। लेकिन आज सच सामने आ गया है, भाजपा मुस्लिम ही नहीं बल्कि बनियों के साथ भी और पूर्वांचलियों के साथ भी वही व्यवहार कर रही है जो वो सदियों से मुसलमानों के साथ करती आई है। इसमें एक महत्वपूर्ण तथ्य यह भी है कि जिस प्रकार से भाजपा ने कभी मुस्लिमों को अपनी पार्टी से टिकेट नहीं दिया, हमेशा उनकी अनदेखी की, उसी प्रकार से अब वो बनियों की भी अनदेखी कर रहे हैं। इसलिए बभाजपा ने मध्य प्रदेश में एक भी बनिए को टिकेट नहीं दिया।

प्रेस वार्ता में मौजूद वजीरपुर से आप विधायक राजेश गुप्ता ने अपनी विधानसभा के बारे में बताते हुए कहा की भाजपा के विजेंद्र गुप्ता ने एक प्रेस वार्ता के माध्यम से कहा है कि आप द्वारा दी गई सूची फर्जी है झूठी है। वजीरपुर विधान सभा से काटे गए नामो में से कुछ लोग जैसे विजय कुमार गुप्ता, राकेश गुप्ता, कृष्णा गुप्ता ये लोग जे जे कालोनी के है, आँचल गुप्ता, जितेन्द्र गुप्ता ये लोग झुग्गियों में रहने वाले लोगो है, नरेश गुप्ता, कविता जैन, गौतम जैन, आशीष जैन ये लोग कोठी वाले इलाके के रहने वाले लोग हैं, ऋचा गुप्ता, मिनल गुप्ता, योगेश गुप्ता, प्रेम गुप्ता ये लोग फ्लैट्स में रहने वाले लोग हैं। विजेंद्र गुप्ता जी जांच करवा लें की इन लोगो के नाम मतदाता सूची से काटे गए हैं या नहीं।

विधायक राजेश गुप्ता ने कहा कि लगता है भाजपा को इस बात का गुस्सा है की दिल्ली के लोकप्रिय मुख्यमंत्री भी बनिया समाज से ही आते है। ये भाजपा ने पहली बार बनिया समाज पर हमला नहीं बोला है। आप सभी लोगो को याद होगा की 2015 के चुनाव में भी मोदी जी ने कहा था की इनका तो गोत्र ही ख़राब है। और शायद भाजपा भूल रही है कि उसका खामियाजा भाजपा को ये भुगतना पड़ा की दिल्ली में इनकी केवल 3 ही सीट रह गई थी। अब भाजपा ने पुरे बनिया समाज पर ही हमला बोला है। बनिया समाज एक ऐसा समाज है जिसने हमेशा ही भाजपा का साथ दिया है। भाजपा को चंदा देने वालो में सबसे ज्यादा योगदान बनिया समाज का रहा है। मेरे बुजुर्गो ने भी भाजपा को चंदा दिया है, यह सोचकर की शायद देश का कुछ भला करेंगे।

मै अपने पूरे बनिया समाज की और से भाजपा से कहना चाहता हूँ की हमने भाजपा को जो भी चंदा दिया है, भाजपा बनिया समाज का एक एक पैसा वापस लौटाए। भाजपा ने देश के लिए कुछ नहीं किया। आज लोग आम आदमी पार्टी की तरफ आ रहे हैं। शायद इसी बात का गुस्सा भाजपा में है और वो लोगो से इसका बदला ले रही है।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

Leave a Comment