Scrollup

*लोकसभा चुनाव की तैयारी के मद्देनजर अपना बूथ कार्यक्रम में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं बता सके अपने सातो सांसदों का एक भी काम : गोपाल राय*

नई दिल्ली, सोमवार। एक प्रेस वार्ता में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दिल्ली के प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कहा कि कल भाजपा ने दिल्ली में “अपना बूथ” कार्यक्रम का आयोजन किया था। कार्यक्रम में आने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर संगठन के लोगो का मार्गदर्शन किया जाना था। लेकिन ये बड़ा ही हास्यास्पद रहा कि पूरे कार्यक्रम के दौरान सभा को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने लोकसभा चुनाव की रणनीतियों पर बात करने के बजाए केवल आम आदमी पार्टी की आलोचना करते रहे। अमित शाह जी को समझना चाहिये की अभी लोकसभा चुनाव आने वाले हैं, दिल्ली के विधानसभा नहीं।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए गोपल राय ने कहा कि दिल्ली के भाजपा के कार्यकर्त्ता बड़ी ही बेसब्री से इंतज़ार कर रहे थे कि पांच साल पहले जो घर-घर जाकर उन्होंने भाजपा के लिए वोट मांगे थे, और दिल्ली की जनता ने उन्हें सातों सीटें जिताकर भी दी थीं, तो हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी आएँगे, और हमें बताएँगे, हमारे सातो सांसदों ने पांच सालों में ये चमत्कारी काम दिल्ली में किए। उन्हें लगा था कि अमित शाह जी सातो सांसदों का पांच सालों का रिपोर्ट कार्ड उनके सामने लेकर आएँगे, जिसे लेकर वो लोग दौबारा से दिल्ली कि जनता के बीच जा सकेंगे और भाजपा के लिए वोट माँग सकेंगे। परन्तु भाजपा कार्यकर्ताओं के हाथ केवल निराशा ही लगी। अमित शाह जी ने ऐसा कोई काम नहीं गिनाया जो भाजपा के सातो सांसदों में से किसी ने दिल्ली की जनता के लिए किया हो। अमित शाह जी पुरे समय केवल आम आदमी पार्टी की आलोचना ही करते रहे।

गोपाल राय ने कहा कि अमित शाह जी शायद बताने में शर्मा रहे थे, और कार्यकर्त्ता शायद डर की वजह से नहीं पूछ सके। लेकिन इस प्रेस वार्ता के माध्यम से मैं अमित शाह जी से और भारतीय जनता पार्टी से एक सवाल पूछना चाहता हूँ, कि पिछले साल दिल्ली के लोगो ने भाजपा को सातो सांसद जिताकर दिए थे, केवल एक वजह बता दीजिए कि क्यूँ दिल्ली के लोग दौबारा से भाजपा को सांसद चुनने के लिए वोट दें?

*कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन की दिशा निर्देश में यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने आम आदमी पार्टी के कार्यालय में की तोड़फोड़*

कांग्रेस को घेरते हुए गोपाल राय ने कहा कि कल जिस तरह से यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने अजय माकन जी के दिशानिर्देश में आम आदमी पार्टी के कार्यालय पर तोड़फोड़ की ये बेहद ही निदनीय कार्य है। कांग्रेस ने राजनीती का स्तर बहुत गिरा दिया है। अजय माकन जी से कहना चाहते हैं कि इस प्रकार की राजनीती करना उचित नहीं है। आम आदमी पार्टी कांग्रेस की ऐसी किसी भी हरकत का जवाब देने में सक्षम है। लेकिन हम चाहते हैं कि देश में एक सकारात्मक राजनीती होनी चाहिए।

भाजपा शासित दिल्ली पुलिस पर सवाल उठाते हुए गोपाल राय ने कहा कि ये बड़ी ही चौकाने वाली बात है कि जब कभी भी आम आदमी पार्टी पर या आप कार्यकर्ताओं पर कोई हमला होता है तो दिल्ली पुलिस के मानो हाथ कट जाते हैं। लेकिन जब यही कार्यवाही आम आदमी पार्टी या उसके खिलाफ कार्यवाही करने की बात हो तो दिल्ली पुलिस 24 घंटे सक्रीय रहती है। दिल्ली पुलिस के सामने यूथ कांग्रेस के कार्यकर्त्ता आम आदमी पार्टी के कार्यालय पर अटैक करते हैं, तोड़फोड़ करते है, और दिल्ली पुलिस मूकदर्शक बनकर तमाशा देखती रहती है। ये बात बिलकुल समझ के परे है कि ऐसा क्यूँ होता है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस का आम आदमी पार्टी के प्रति ये जो दोहरा मापदंड है ये ठीक नहीं है। भाजपा के लोगो को दिल्ली की पुलिस संरक्षण देने का काम करती है, वो बात समझ आती है, लेकिन कल कांग्रेस के लोगो के सामने भी दिल्ली पुलिस मूकदर्शक बनी कड़ी रही, उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं कि, ये बात समझ के बिलकुल परे है। हमारा दिल्ली पुलिस से निवेदन है कि दिल्ली पुलिस एक संस्था है, जो देश के सभी नागरिकों के प्रति समान जिम्मेदारियां रखती है। दिल्ली की पुलिस ये दोहरा चरित्र छोड़े, और अपना कार्य इमानदारी से करे, ताकि दिल्ली पुलिस की साख और देश की जनता का विश्वाश उन पर बना रहे।

गोपाल राय ने कहा कि कल कि घटना को लेकर आम आदमी पार्टी यूथ कांग्रेस के खिलाफ FIR दर्ज कराएगी, और इस घ्रणित कृत्य के लिए प्रशासन से मांग करेगी कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए, ताकि आने वाले समय में कोई भी पार्टी, कोई भी व्यक्ति अपने अधिकारों की सीमा को पार न करे।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

1 Comment

    • John Ferns

      AK/AAP should contest Panchayat & Municipality Elections, So that AK/AAP will get Leaders from Grassroots Level, So that AK/AAP can bring them at the Central, So that AK/AAP can spread its wings all over India with the help of these Leaders from different States. Honest Indians exists in all Indian States, only require little effort of AK/AAP to bring them into its fold.

      reply

Leave a Comment