Scrollup

मंगलवार को राजधानी दिल्ली के कांस्टिट्यूशन क्लब में दिल्ली सरकार ने स्मार्ट गाँव सम्मेलन आयोजित किया जिसमें गांव के लोगों के साथ सरकार ने संवाद स्थापित किया। इस सम्मेलन में गांव के विकास पर चर्चा की गई और बात की गई कि कैसे दिल्ली के गांवों को स्मार्ट बनाया जाएगा और जनता की भागीदारी इसमें कैसे हो सकती है।

दिल्ली सरकार के ग्राम विकास बोर्ड की तरफ़ ये यह कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें दिल्ली के विकास मंत्री गोपाल राय मुख्य अतिथि रहे। कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने कहा कि देश में केजरीवाल सरकार ही एक पहली सरकार रही है जिसने किसानों को उनकी ख़राब फ़सल का सबसे ज्यादा मुआवज़ा दिया जिसके अंतर्गत 50 हज़ार रुपए प्रति हेक्टेयर का दिया गया।

ग्राम विकास बोर्ड की तरफ़ से हर गांव के लिए प्रावधान तो पहले की सरकारों में भी होता रहा है लेकिन वो क्रियान्वित नहीं होता था, हमारी सरकार ने हर गांव के विकास के लिए राशि को असामान्य बढ़ोतरी के साथ 2 करोड़ रुपए किया है जिसके तहत दिल्ली के हर गांव को 2 करोड़ रुपए की राशि उनके विकास के लिए दी जाएगी और उस पैसे को गांव के लोग अपनी ग्रामसभा बनाकर अपने गांव की ज़रुरत के हिसाब से ख़र्च करेंगे।

दिल्ली में 364 गांव हैं और दिल्ली सरकार ने 600 करोड़ रुपए से ज्यादा का बजट दिल्ली के गांवों के विकास के लिए निर्धारित किया है गांवों के विकास पर ख़र्च हो रहा है।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

Ghansham

3 Comments

    • Sanjeev jain

      Ham yahi chahte h agar aam admi party Vijay hogi Lekin Anna hazare ko saath lekar chalo agla p. M Arvind kejriwal honge

      reply
    • Gaurav Bajaj

      I work in Netaji Subhash Place,Pitampura there roads are in very bad state and no repair jas been done or new road laid which is reqd.

      Though its a major business hub but a very poor state.

      Pls look into the same.

      reply
    • John Ferns

      AAP WILL UNITE INDIANS AND WILL MAKE DEVELOPED INDIA THROUGH ITS HONEST GOVERNANCE & HAVING REGULAR “INDIAN UNITY CULTURAL” PROGRAMMES.

      reply

Leave a Comment