Scrollup

नहीं रुकी सीलिंग तो AAP करेगी बड़े आंदोलन की तैयारी: गोपाल राय

आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि ‘सीलिंग के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी व्यापारियों को गुमराह कर रही है और जनता के बीच भ्रम फैला रही है। सुप्रीम कोर्ट का बहाना बनाकर भाजपा के नेता अपनी ज़िम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं

दरअसल दिल्ली में कन्वर्जन चार्ज सिर्फ़ भाजपा शासित एमसीडी ही माफ़ कर सकती है और अगर वो ऐसा कर देते हैं तो व्यापारियों को राहत मिल सकती है। दूसरा कारण दिल्ली के मास्टर प्लान में तब्दीली और एफ़एआर को बढ़ाने का मुद्दा है जो केंद्र सरकार के अधीन काम करने वाली डीडीए के पास है। भाजपा चाहे तो एक दिन में ही सीलिंग से व्यापारियों को निजात मिल सकती है लेकिन ऐसा करने की उनकी नीयत नज़र नहीं आ रही है।

मास्टर-प्लान 2021 बदलने का अधिकार सिर्फ़ केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय और डीडीए के पास है और अगर मास्टर प्लान में तब्दीली कर दी जाती है तो एफ़एआर को बढ़ाया जा सकता है और सीलिंग को रोका जा सकता है। अगर केन्द्र सरकार एक अध्यादेश लाती है तो इस समस्या का समाधान तुरंत हो सकता है।

सीलिंग का दूसरा कारण कन्वर्जन चार्ज है जिसे भाजपा शासित एमसीडी अगर माफ़ कर देती है तो सीलिंग की समस्या से व्यापारियों को निजात मिल सकती है। भाजपा शासित एमसीडी ने आज तक तकरीबन 3 हज़ार करोड़ रुपए कन्वर्जन चार्ज और पार्किंग चार्ज के नाम पर दिल्ली के व्यापारियों से इकठ्ठा किए हैं लेकिन उसे बाज़ारों के विकास पर ख़र्च ना करके उसे दूसरी मद में ख़र्च कर दिया गया।

जिन 351 सड़कों की बात भाजपा के नेता विजेंद्र गुप्ता और भाजपा के दूसरे नेता कर रहे हैं दरअसल तीनो एमसीडी ने 23 जनवरी 2018 को ही 351 सड़कों से संबंधित फाइलें दिल्ली सरकार के पास जमा की हैं जो प्रक्रिया में हैं और उन फ़ाइलों को दिल्ली सरकार जल्द से जल्द सुप्रीम कोर्ट को भेजेगी ताकि वे 351 सड़कें अधिसूचित हो सकें। लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जो दुकानें दिल्ली में पिछले दिनों भाजपा शासित एमसीडी ने सील की हैं उनमें से एक दुकान भी इन 351 सड़कों पर नहीं हैं, मतलब कि उपरोक्त 351 सड़कों पर कोई दुकान सील नहीं की गई है।

पूर्व में मनमोहन सिंह की सरकार में शहरी विकास राज्य मंत्री रहे अजय माकन ने दिल्ली के व्यापारियों को सीलिंग से बचाने के लिए कोई काम नहीं किया और अब भी वो सीलिंग के मुद्दे पर पूरी तरह से मौन हैं। दिल्ली के मास्टर प्लान में बहुत सारी कमियां छोड़ी गईं जिसकी वजह से आज दिल्ली के व्यापारियों को सीलिंग का सामना करना पड़ रहा है।

दिल्ली के अव्यवस्थित बाज़ार हों या फिर अनधिकृत कॉलोनियां हों, डीडीए ने बिना किसी योजना के सारी बसावट की है जिसकी वजह से आज दिल्ली के लोग परेशानियां झेल रहे हैं। डीडीए ने अपनी ज़िम्मेदारियां नहीं निभाई जिसकी वजह से ही आज जनता परेशानियां झेल रही है।

प्रैस कॉंफ्रेंस में बोलते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता एंव दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने कहा कि ‘आज भाजपा के नेता दिल्ली के व्यापारियों में भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन हक़ीक़त यह है कि दिल्ली में जारी सीलिंग का समाधान भाजपा शासित एमसीडी और भाजपा शासित केंद्र सरकार के पास ही है।

आने वाले वक्त में अगर भाजपा की केंद्र सरकार अध्यादेश लाकर दिल्ली के व्यापारियों को राहत नहीं देती है तो आम आदमी पार्टी बड़ा आंदोलन छेड़ेगी। फिलहाल 29 जनवरी को आम आदमी पार्टी संसद मार्च करेगी और सीलिंग के ख़िलाफ़ व्यापारियों के साथ खड़ी होगी, अगर फिर भी भाजपा की सरकार और एमसीडी दिल्ली के व्यापारियो को कोई राहत नहीं देते हैं तो आम आदमी पार्टी बड़े आंदोलन की रुपरेखा तैयार करेगी।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

Jitender Singh

1 Comment

    • John Ferns

      One small Corrupt Gang are making Photoshop Photos of Arvind Kejriwal and posting it in AAP GOA FACEBOOK. They should be BLOCK from posting Wrong Photos of AK in Goa Facebook. They are misguiding Goans by posting wrong photos of AK/AAP in Goa Facebook. Facebook has the facilities to BLOCK these Corrupt People.

      reply

Leave a Comment