Scrollup

PressRelease/AAP/24Feb2018

सीलिंग के ख़िलाफ़ प्रधानमंत्री आवास की तरफ़ CTI के कटोरा मार्च में शामिल होगी AAP- आशुतोष

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि ‘मोदी जी के राज में आप देख रहे हैं कि कैसे लूटो और भागो योजना की शुरुआत हो चुकी है। मतलब देश को लूटो और देश छोड़कर भाग जाओ। बीजेपी के लोग विदेशों से सारा काला धन लाने की बात कहते थे लेकिन वही बीजेपी की सरकार आज इस देश के चंद लोगों को देश की जनता की गाढ़ी कमाई का पैसा बांट रहे हैं और उन्हें देश से भाग जाने की छूट दे रहे हैं।

नीरव मोदी के बाद, विजय माल्या के बाद, ललित मोदी के बाद, जतिन मेहता के बाद अब दिल्ली के एक ज्वैलर्स ने ओरिएंटल बैंक ऑफ़ कॉमर्स से 397 करोड़ रुपए का गबन किया है। और अब पता चला है कि उक्त ज्वैलर्स के दो भाईयों में से एक भाई तो विदेश भाग गया है। इस मामले में बैंक ने पिछले साल अगस्त के महीने में इसकी शिकायत कर दी थी, लेकिन ना सरकार के कान पर जूं रेंगती है और ना ही सीबीआई के।

22 हज़ार करोड़ का घपला करके नीरव मोदी विदेश में बैठा है, विजय माल्या 9 हज़ार करोड़ रुपए लेकर भाग गया, ललित मोदी हजारो करोड़ रुपए का पैसा लेकर भाग गया। ये सबकुछ देखकर अब तो लोग बैंक में पैसा जमा कराने से भी डर रहे हैं। ब्याज़ की तो बात ही छोड़ो लोगों का मूल भी बैंक में सुरक्षित नहीं है।

अगर देश की सरकार अब भी नहीं जागी तो चंद उद्योगपति बैंक में जमा देश की जनता का सारा पैसा लेकर विदेश भाग जाएंगे और विदेश की नागरिकता ले लेंगे और यहां देश की जनता बर्बाद हो जाएगी। तकरीबन साढ़े 8 लाख करोड़ रुपए का कर्ज़ा बड़े-बडे उद्योगतपतियों ने बैंकों से ले रखा है जो अब इस देश को छोड़कर भागने की तैयारी में हैं। ये सारा पैसा इस देश की जनता का है।

बैंकों से भारी मात्रा में कर्ज़ के रुप में भारी मात्रा में पैसा लेने वाले ये इन बड़े उद्योगपतियों में से कुछ ने तो विदेश की नागरिकता ले भी ली होगी, अगर सरकार की तरफ़ से इन उद्योगपतियों की प्रॉपर्टी सीज़ नहीं की गई तो ये सारे लोग विदेश में जाकर बस जाएंगे और भारत का सारा पैसा डूब जाएगा।

यह बहुत गंभीर मामला है। इस देश की सरकार को जागना चाहिए क्योंकि ये सरकार तो कुंभकरण की नींद सो रही है। इस सरकार का तो कहना है कि 8 हज़ार करोड़ रुपए का कर्ज़ा लोगे तो आपको जेल में डाल देंगे लेकिन अगर 8 हज़ार करोड़ रुपए का कर्ज़ लोगे तो आपको हवाई जहाज़ में बैठा कर लंदन भेज दिया जाएगा। इस देश की जनता का पैसा बड़े उद्योगपतियों के हाथों में सौंपने का काम देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली कर रहे हैं जो बेहद गंभीर मसला है।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एंव राष्ट्रीय प्रवक्ता आशुतोष ने कहा कि ‘अब ये पैटर्न बन गया है कि बैंक से बड़ा लोन लो और देश छोड़कर भाग जाओ। अगस्त के महीने में दिल्ली के व्यापारी के मामले में शिकायत की गई थी। जब नीरव मोदी का मामला सामने आता है तो अब साढ़े छह महीने बाद इस मामले में मुकदमा दर्ज होता है। अगर आम आदमी पार्टी के ख़िलाफ़ एक छोटी सी शिकायत होती है तो पूरी पुलिस और सीबीआई तक पीछे पड़ जाती है लेकिन मोदी जी के करीबियों के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं होती है।

दिल्ली में जारी सीलिंग के ख़िलाफ़ प्रधानमंत्री आवास की तरफ़ CTI के कटोरा मार्च मार्च में शामिल होगी AAP

दिल्ली में चल रहे सीलिंग अभियान के खिलाफ चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंड्स्ट्री(सीटीआई) के नेतृत्व में दिल्ली के व्यापारी रविवार 25 फरवरी को हाथों में कटोरे लेकर पीएम हाउस पहुंचेंगे और पीएम से सीलिंग के मामले में हस्तक्षेप करने की गुहार लगाएंगे।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता आशुतोष ने दिल्ली में चल रही सीलिंग के मुद्दे पर कहा कि ‘सीलिंग के मसले पर आम आदमी पार्टी के सभी कार्यकर्ता,विधायक, पार्षद और पूरा संगठन, चैंबर ऑफ ट्रेड एंड इंड्स्ट्री के साथ हाथ में कटोरा लेकर प्रधानमंत्री के घर की तरफ़ मार्च करेंगे और दिल्ली में चल रही सीलिंग को रोकने की अपील करेंगे। इस देश की बीजेपी सरकार ने व्यापारियों को आज कटोरा हाथ में लेने को ही मजबूर कर दिया है क्योंकि पहले नोटबंदी से, फिर जीएसटी से और अब दिल्ली में व्यापारियों और छोटे दुकानदारों की दुकानों और शोरूम सील करके उनके पेट पर लात मारने का काम किया है।

दिल्ली के व्यापारियों ने सबकुछ करके देख लिया है लेकिन ना तो बीजेपी शासित केंद्र सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है ना ही बीजेपी शासित एमसीडी ही कुछ कर रही है। अब इस मामले में प्रधानमंत्री आवास की तरफ़ ही कटोरा लेकर व्यापारी पहुंचेंगे और आम आदमी पार्टी उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेगी।

प्रैस कॉंफ्रेंस का पूरा वीडियो यहां नीचे दिए गए यूट्यूब लिंक पर देखा जा सकता है –

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

sudhir