Scrollup

राजधानी दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने आगामी 2019 के लोकसभा चुनाव की तैयारियां शुरु कर दी हैं जिसके तहत संगठन की बैठकों का दौर गुरुवार से दिल्ली स्थित पार्टी के राष्ट्रीय कार्यालय में शुरु हुआ। गुरुवार से संगठन के लोकसभा पदाधिकारियों की बैठक की शुरुआत हुई जो अगले सात दिन तक चलेगी, जिसमें पहले दिन उत्तर-पूर्व लोकसभा क्षेत्र की बैठक ली गई। बैठक की अध्यक्षता दिल्ली प्रदेश के संयोजक और पार्टी के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने की जिसमें विधायक संजीव झा, रितुराज, हाजी इशराक़, सुनील दत्त शर्मा समेत बाकि सभी विधायकों ने शिरक़त की।

संगठन निर्माण को लेकर पार्टी ने सभी लोकसभा क्षेत्रों और विधानसभाओं में बूथ लेवल पर क्षेत्रीय अध्यक्ष बनाने का काम पूरा कर लिया है, जिसके अगले चरण में ‘मेरा बूथ-सबसे मज़बूत-2’ के तहत ब्लॉक अध्यक्षों की नियुक्ति का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए सभी ज़िला अध्यक्षों और विधानसभा कम्युनिकेशन इंचार्ज को ज़िम्मेदारी दी गई है। दिल्ली को कुल 1,32.950 ब्लॉक में बांटा गया है जिसके तहत उत्तर-पूर्व ज़िले में 20,230 ब्लॉक रखे गए हैं।

आम आदमी पार्टी जनवरी से सभी ज़िलों में ज़िला कार्यकर्ता सम्मेलन भी आयोजित करने जा रही है, इसके मद्देनज़र उत्तर-पूर्व लोकसभा की करावल नगर एंव मुस्तफ़ाबाद विधानसभा में आगामी 9 एंव 25 जनवरी को कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया जाएंगे।

सात दिवसीय पदाधिकारी बैठक के तहत पहले दिन 21 दिसम्बर को उत्तर-पूर्वी क्षेत्र की बैठक हुई। 22 दिसम्बर को चांदनी चौक, 23 दिसम्बर को नई दिल्ली, 24 दिसम्बर को पूर्वी दिल्ली, 25 दिसम्बर को पश्चिमी दिल्ली, 26 उत्तर-पश्चिमी दिल्ली और 27 दिसम्बर को दक्षिणी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के पदाधिकारी बैठक में शामिल होंगे।

 

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

Jitender Singh

1 Comment

    • John Ferns

      ELECTION 2019

      AAP SHOULD MAKE THESE ISSUES “A NATIONAL ISSUES”
      (1) DEMONETISATION
      (2) EVM
      (3) FARMER
      (4) FISHERMEN
      (5) EDUCATION
      (6) HEALTH
      (7) WATER
      (8) ELECTRICITY

      Congress is the main enemy of AAP. AAP should target Congress as well as BJP at the Same-Time, to get Congress voters to its fold. BJP has fixed voters, which they will vote BJP, no matter, if BJP keeps them hungry for days! It is their ideology, which make them vote to BJP, despite failure in Demonetisation, GST, Aadhar Card, EVM Manipulation, etc.

      AK should visit each constituency to inform about the Ideology of AAP.
      Education Minister should visit each constituency to inform about the Education Reform.
      Health Minister should visit each constituency to inform about the Health Reform.
      Water & Electricity Minister should visit each constituency to inform about the Water & Electricity Reform.

      AAP must criticize only Congress & BJP. AAP should not criticize any other Political Parties.

      LAST BUT NOT THE LEAST – 2019 ELECTION MUST BE HELD WITH BALLOT PAPER!

      reply

Leave a Comment