Scrollup

*भाजपा के घोषणा पत्र में व्यापारियों के लिए कोई राहत नही*
*भाजपा के जुमला घोषणा पत्र से दिल्ली के समस्त व्यापारी संगठन नाराज : बृजेश गोयल*
*दिल्ली के समस्त व्यापारी संगठन मिलकर सभी मार्किटों में जाकर मोदी के खिलाफ करेंगे प्रचार, भाजपा को वोट न देने की करेंगे अपील : बृजेश गोयल*
*नई दिल्ली, 9 अप्रैल 2019*
मंगलवार को एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आप व्यापारी संगठन के प्रदेश अध्यक्ष एवं नई दिल्ली लोकसभा से आप के प्रत्याशी बृजेश गोयल ने बताया कि भाजपा के कल के घोषणा पत्र को लेकर दिल्ली के व्यापारियों में बेहद गुस्सा है।
उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल में नोटबंदी, जीएसटी और सीलिंग की वजह से दिल्ली के व्यापारियों ने जो परेशानियां झेली हैं, दिल्ली में जो सारा व्यापार चौपट हो गया है, भाजपा के इस घोषणापत्र में व्यापारियों की इन समस्याओं के समाधान बारे में जरा सा भी उल्लेख नहीं है।
मोदी जी ने अचानक से देश में नोटबंदी का ऐलान कर दिया। नोट बंदी की वजह से पूरे देश में सबसे ज्यादा नुकसान व्यापारियों का हुआ। क्योंकि भारत में छोटे स्तर का सारा व्यापार कैश के आधार पर चलता है, और नोटबंदी की वजह से 9 महीने तक देश में कैश की किल्लत रही, जिसकी वजह से छोटे व्यापारी पूरी तरह से बर्बाद हो गए, देशभर में लाखों फैक्ट्रियां और छोटे-छोटे उधम बंद हो गए। ना सिर्फ व्यापारी बल्कि उनकी फैक्ट्रियों, कारखानों में काम करने वाले लाखों करोड़ों मजदूर भी बेरोजगार हो गए।
इसी प्रकार से मोदी सरकार ने एफडीआई को खुली छूट देकर व्यापारियों की रोजी रोटी पर लात मारने का काम किया। जब भाजपा विपक्ष में थी तो इसी एफडीआई के विरोध में कांग्रेस सरकार के विरुद्ध सड़कों पर उतरी थी। और आज जब भाजपा खुद सत्ता में है तो एफडीआई के लिए सारे दरवाजे खोल दिए हैं।
वर्तमान में दिल्ली के व्यापारियों का सबसे बड़ा मुद्दा सीलिंग है। जिसकी वजह से दिल्ली में लगभग 20000 व्यापारियों की दुकानें, कारखाने सील कर दिए गए हैं। व्यापारी वर्ग सड़कों पर आ गया है। भाजपा ने अपनी घोषणा पत्र में इस संबंध में एक शब्द भी नहीं लिखा है, कि किस प्रकार से भाजपा अगर दोबारा सत्ता में आती है, तो सीलिंग का समाधान करेगी, और जो दुकानें सील पड़ी हुई हैं किस प्रकार से उन दुकानों को डी-सील करवाएगी।
बृजेश गोयल ने बताया कि भाजपा के घोषणा पत्र लागू होने के पश्चात दिल्ली के कई व्यापारी संगठनों की ओर से मुझे फोन आया। व्यापारी संगठनों ने इस घोषणा पत्र पर नाराजगी जाहिर की है, और तय किया है कि दिल्ली के सभी व्यापारी संगठन मिलकर दिल्ली की सभी मार्केटों में भाजपा के इस जुमला घोषणा पत्र की पोल खोलने का अभियान चलाएंगे। इस बार दिल्ली के सभी व्यापारी मिलकर भाजपा और मोदी जी को वोट ना देने का अभियान दिल्ली के अंदर चलाएंगे।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

dilip.panicker@gmail.com

1 Comment

    • John Ferns

      Display the Photos of the EVM Manipulators in the Social Media. Let the whole India knows the faces of the Traitors who are selling India for few Rupees!

      reply

Leave a Comment