Scrollup

*भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव के बलिदान दिवस 23 मार्च से शुरू होगा AAP का चुनावी रण: गोपाल राय*
नई दिल्ली, 19 मार्च 2019,
मंगलवार एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से जिस तरह कांग्रेस हर घंटे में 4 बयान देती है, बार बार अपना पक्ष बदलती रहती है, उसको देखकर एक बात साबित हो गई है, कि कांग्रेस के लिए देश सर्वोपरि नहीं है अपनी पार्टी सर्वोपरि है।
जिस तरह से दिल्ली में गठबंधन को लेकर कांग्रेस के नेताओं के बयान आ रहे हैं, उससे यह निष्कर्ष निकलता है, कि कांग्रेस देश को मोदी और शाह की तानाशाही से बचाने में कम दिलचस्पी रखती है, और अपने अहंकार को बचाए रखने में कांग्रेस की ज्यादा दिलचस्पी है।
आम आदमी पार्टी ने देश को मोदी और शाह द्वारा अघोषित आपातकाल की स्थिति से बचाने के लिए महागठबंधन में शामिल होने का फैसला लिया था।
इसी संदर्भ में कांग्रेस के साथ सैकड़ों मतभेद होने के बावजूद भी दिल्ली में कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के बारे में सोचा था। परंतु जिस तरह से कांग्रेस का ढुलमुल रवैया रहा है, उसने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को और दिल्ली में भाजपा के खिलाफ जो एक आंदोलन उठ रहा था उसको अधर में लटकाने का काम किया है। इसीलिए आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की सातों सीटों पर पूरे दमखम के साथ चुनाव लड़ने का फैसला लिया है।
आज देश में जो स्थिति है, जिस तरह से सभी सरकारी संस्थाओं का दुरुपयोग किया जा रहा है, जिस तरह से भाजपा लोकतंत्र को खत्म करने का काम कर रही है, जिस तरह से भाजपा सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वालों को कुचलने का काम कर रही है, इन सब चीजों को देखते हुए एक साधारण सा व्यक्ति भी भाजपा के विरुद्ध अपना निर्णय ले सकता है। परंतु कांग्रेस ने जिस तरह से अपना पक्ष तय करने में समय खराब किया है, और अभी तक भी कांग्रेस कोई निर्णय नहीं ले पाई है, यह बड़ा ही आश्चर्यजनक है।
23 मार्च से आम आदमी पार्टी दिल्ली में अपना चुनावी कैंपेन शुरू कर रही है। 23 मार्च को सुबह 11:00 बजे पश्चिमी दिल्ली लोकसभा में एक रैली का आयोजन रखा गया है। यह रैली द्वारका मोड़ से शुरू होकर राजौरी गार्डन पर जाकर खत्म होगी। शाम को 7:00 बजे शकूरबस्ती और शाम 8:00 बजे तिमारपुर में राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल जी की जनसभा होगी।
पार्टी ने चुनावी कैंपेन को दो चरणों में विभाजित किया है । 23 मार्च से 7 अप्रैल तक पहला चरण होगा और 8 अप्रैल से 30 अप्रैल तक दूसरा चरण होगा। पहले चरण में पूरी दिल्ली के अंदर अरविंद केजरीवाल जी की 35 जन सभाओं का आयोजन किया जाएगा। दूसरे चरण में भी अरविंद केजरीवाल जी की 35 जन सभाएं होंगी। प्रत्येक विधानसभा में एक जनसभा के हिसाब से कुल 70 जन सभाएं होंगी।
राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल जी के अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की सभाओं का भी आयोजन किया जाएगा। जिसमें पहले चरण में दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय की 30 जन सभाएं और राज्यसभा सांसद संजय सिंह की 26 जन सभाएं एवं मनीष सिसोदिया की 17 जनसभाएं होंगी। कुल मिलाकर पहले चरण में पार्टी ने 108 जनसभाएं करने का प्लान तैयार किया है। दोनों चरणों में सभी नेताओं की सभाओं को मिलाकर लगभग 280 जन सभाओं का आयोजन किया जाएगा।
जन सभाओं के अलावा पार्टी ने अपने चुनावी कैंपेन को 5 स्तरों पर विभाजित किया है। इस 5 स्तरीय चुनावी कैंपेन के तहत सभी विधायकों की सभी पोलिंग स्टेशनों पर नुक्कड़ सभाओं का आयोजन किया जाएगा। लगभग 3,000 नुक्कड़ सभा करने का निर्णय लिया गया है। जिन विधानसभाओं में हमारे विधायक नहीं है, वहां पर विधानसभा अध्यक्ष और निगम पार्षदों की नुक्कड़ सभाएं कराई जाएगी।
पार्टी ने पूरी दिल्ली को 260 जोन में विभाजित किया है। 8 अप्रैल से सभी जोनों में वार्ड अध्यक्ष एवं संगठन मंत्री के नेतृत्व में पदयात्रा निकाली जाएंगी। पदयात्रा के दौरान अरविंद केजरीवाल द्वारा पूर्ण राज्य को लेकर लिखी गई चिट्ठी और कैंडिडेट का स्टीकर घर घर में बांटा जाएगा। इन सभी जगहों पर प्रोजेक्टर के माध्यम से अरविंद केजरीवाल जी का पूर्ण राज्य को लेकर दिया गया बयान भी चलाया जाएगा।
पूर्ण राज्य बनाओ और झाड़ू का बटन दबाओ नारे के साथ आम आदमी पार्टी 23 मार्च से अपना चुनावी कैंपेन शुरू करेगी, और इन सब गतिविधियों को करते हुए अपने कैंपेन को अगले स्तर तक ले कर जाएगी।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

dilip.panicker@gmail.com

1 Comment

    • John Ferns

      CONGRESS BY JOINING HANDS WITH AAP DON’T WANT TO HURT BJP
      As they both always rescued each other in their difficulties times.
      For Example – 4 Congress MLAs joined BJP to rescue BJP from falling. Now BJP has 4 Congress MLAs in present Goa Government. More Congress MLAs are ready to join BJP if BJP is in trouble. Congress is always there for BJP. Congress cannot afford to lose best friend BJP by joining AAP’s hand.

      reply

Leave a Comment