Scrollup

प्रेस रिलीज़
विधायक कार्यालय, तिमारपुर

*गांधी के बनाए हरिजन सेवक संघ में छात्राओं पर हमला।*

*केडी केंपस के के लड़कों द्वारा छात्राओं पर पत्थरबाजी और छेड़खानी।*

*दलितों के लिए बनाए गांधीजी के बनाए आश्रम में दलित बच्चियों की सुरक्षा खतरे में।*

*ऐतिहासिक हरिजन सेवक संघ को मुनाफाखोरी का अड्डा बनाना गलत- पंकज पुष्कर।*

 

Ref No Mla/AC3/DELHI POLICE/0989
Date 25-12-2018
Time of incidence 12:45 pm to 1 PM
Time of Reporting to police 1 Pm
Time of formal complaint 4 PM

सेवा में
थानाध्यक्ष
मुखर्जी नगर थाना,
दिल्ली पुलिस।

विषय: हरिजन सेवक संघ ढक्का में सर्वोदय कन्या विद्यालय ढका की छात्राओं के चलते हुए कार्यक्रम में केडी केंपस के छात्रों द्वारा गुंडागर्दी, गाली देना, पत्थर फेंकने, छात्राओं को छेड़ने, छात्राओं की सुरक्षा खतरे में डालने और अश्लील हरकतें करने की प्राथमिकी के संबंध में।

माननीय महोदय
आज 25 दिसंबर 2018 को हरिजन सेवक संघ ढक्का में सर्वोदय कन्या विद्यालय ढका की छात्रों का लर्निंग मेला चल रहा था। इस में विशेष आमंत्रित के तौर पर मैं, विधायक तिमारपुर पंकज पुष्कर और अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे। इस कार्यक्रम में अपनी समाप्ति से ठीक पहले दोपहर 1 बजे एक सर्किल बनाकर छात्राएँ अपने अपने सुझाव रख रही थीं। इसी समय 20 से 28 साल की उम्र के बीच के 25 के करीब लड़कों का एक समूह आया। ये छात्राओं की तरफ़ बढ़ने लगा, सिटी बचाने लगे, लड़कियों से टकराने लगे। वे शायद हमें नहीं पहचानते थे। तमाम व्यस्क लोगों की उपस्थिति में उन्होंने छात्राओं के साथ छेड़खानी और बदतमीज़ की, पत्थर फेंके। जब मैंने एक छात्र प्रशांत मलिक 9027777964 से पीछे जाने का अनुरोध किया और सीटी बजाने को मना किया तो उसने कहा कि सिट्टी बजाने में क्या गलत है। सिट्टी तो विराट कोहली भी बजाता है। फिर लड़कों ने कहा कि हम तो दर्शक हैं। मैंने अनुरोध किया कि तो आप थोड़ा पीछे खड़े हो जाओ। लेकिन वो लड़कियों के सर्किल के बीच में आने के लिए धक्का-मुक्की करने लगे। जब उनको मना किया गया तो वे और उद्दंड आचरण करने लगे। कुछ लोगों ने उनको परिचय दिया कि यह विधायक तिमारपुर हैं। उसके बाद भी उनका व्यवहार उद्दंड बना रहा।

इसके बाद मैंने क्षेत्रीय विधायक होने के नाते महसूस किया कि स्थिति किसी गंभीर दुर्घटना की ओर बढ़ सकती है। मैंने तत्काल हरिजन सेवक संघ और केडी केंपस के अधिकारियों को फोन करने की कोशिश की। हरिजन सेवक संघ के एक अधिकारी श्री नेगी जी से मेरी फोन पर बात हुई लेकिन उन्होंने तत्काल घटनास्थल पर आने में असमर्थता जताई। केडी केंपस के कोई जिम्मेदार अधिकारी बार-बार कहने के बाद भी घटनास्थल पर नहीं आए। इसके बाद मैंने सौ नंबर पर और मुखर्जी नगर थानाध्यक्ष महोदय को व्यक्तिगत फोन करके तत्काल घटनास्थल पर पहुंचने का निवेदन किया। जिससे कि किसी भी गंभीर दुर्घटना से बचा जा सके। मैंने अपने साथियों से अनुरोध किया कि सभी उपस्थित युवाओं के फोटोग्राफ लिए जाए। मेरे यह कहने के बाद और पुलिस को सूचना करने के बाद छात्र घटनास्थल से भागने लगे। भागते भागते छात्रों ने छात्राओं की ओर तथा उनकी प्रदर्शनी की ओर पत्थर फेंके। जिसमें से एक छात्र को रोका गया। इनमें से एक गुरुचरण नामक छात्र का फोन नंबर भी लिया गया। इसका फोन नंबर 8448432662 है। इस छात्र को पुलिस के आने तक रुकनेे को कहा गया। लेकिन पत्थरबाज छात्रों को केडी केम्पस के शेष छात्र अपने पूरे समूह में आकर ले गए।

इसके लगभग 10 मिनट बाद मुखर्जी नगर थाने की पुलिस पहुंची और साथ ही दिल्ली महिला आयोग की टीम भी घटनास्थल पर पहुंच गई। इस मामले की सारी मौखिक शिकायत को मुखर्जी नगर थाने के अधिकारियों एवं दिल्ली महिला आयोग की टीम को अवगत कराया गया। हरिजन सेवक संघ के ऑफिस के कर्मचारी श्री झा साहब इसके बाद आए और मुखर्जी नगर थाने के इमरजेन्सी ऑफिसर श्री प्रदीप जी से बात करने लगे। उन्होंने अपने मैनेजमेंट कमेटी के अधिकारी रजनीश कुमार जी को फोन लगाया और रजनीश जी से प्रदीप कुमार जी की बात करवाई। सभी लोगों के बीच होती बातचीत में रजनीश कुमार जी ने प्रदीप कुमार जी को दबाव में लेने की और धमकी देने की कोशिश की और डीसीपी साहब के पास जाने का हवाला दिया। इमरजेंसी ऑफिसर ने बताया कि वह एक सरकारी ड्यूटी में है और शिकायत के बाद अपना कर्तव्य निभा रहे हैं।

इसके बाद मैंने मुखर्जी नगर थाने की पुलिस से अनुरोध किया कि छात्रों को अभी ही परिसर में पकड़ा जाए और उनसे पूछताछ की जाए। अनुरोध करने पर मुखर्जी नगर थाने के दो कांस्टेबल और दिल्ली महिला आयोग की टीम के 2 सदस्य केडी केंपस के परिसर में गए। केडी केंपस के अधिकारी अशोक शर्मा का नंबर 9810961111 और प्रशांत जी का नंबर 7838394138 है।

केडी केंपस के अधिकारी अशोक शर्मा से पूछने पर उन्होंने बताया कि केडी केंपस के हरिजन सेवक संघ परिसर के अंदर 40-45 छात्र दिल्ली सरकार की जय भीम प्रतिभा विकास योजना के अंतर्गत एससी एसटी कैटेगरी के पढ़ रहे हैं। मैंने उन से अनुरोध किया कि उनकी लिस्ट उपलब्ध करवाई जाए। दिल्ली पुलिस और महिला टीम महिला आयोग की टीम के अधिकारी गए तो केडी केंपस में बड़े-बड़े 3-4 हॉल छात्रों के लिए, दो हॉल बड़े ऑफिस के लिए और एक रूम डॉक्टर के बैठने के लिए मौजूद था। एक रूम में 100 के करीब एयर कंडीशनर्स रखे थे। परिसर में हजारों की संख्या में डेस्क रखी थीं। पुलिस और दिल्ली महिला आयोग की टीम को वहां छात्र नहीं मिले। केडी केंपस के कर्मचारी प्रशांत कुमार जी ने बताया कि 12:30 बजे क्लास समाप्त हो जाती हैं। इसलिए छात्र चले गए होंगे। केडी केंपस परिसर में डॉ आर के चौधरी और माया चौधरी के ऑफिस में हम गए और उनसे छात्रों की सूची उपलब्ध कराने का अनुरोध किया, जिससे कि दोषी छात्रों को जांच में मदद करने के लिए कहा जा सक। डॉ आर के चौधरी और माया चौधरी ने छात्राओं की जान खतरे में डालने, छेड़खानी, धक्का-मुक्की और पत्थरबाजी की घटनाओं की गंभीरता को अनदेखा करते हुए मामले पर हल्ला गुल्ला करने और शांति व्यवस्था भंग करने की कोशिश की।

मेरा दिल्ली पुलिस, दिल्ली महिला आयोग और दिल्ली सरकार के समाज कल्याण मंत्रालय से अनुरोध है की दोषी छात्रों और केडी केम्पस के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाए, दोषी लड़कों को तत्काल पकड़ कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए और हरिजन सेवक संघ और केडी केंपस का कानून के दायरे में रहना सुनिश्चित किया जाए।

भवदीय
पंकज पुष्कर
विधायक तिमारपुर
164 माल अपार्टमेंट, माल रोड
8882225066

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

Leave a Comment