Scrollup

कोपेनहेगन में जलवायु शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए सीएम अरविंद केजरीवाल को अनुमति नहीं देना दिल्ली के लोगों का अपमान है: संजय सिंह

इससे पहले दिल्ली की पूर्व सीएम स्व. श्रीमती शीला दीक्षित जी ने भी इसी शिखर सम्मेलन में भाग लिया था: संजय सिंह

पहले केंद्र ने मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन की यात्रा रद्द की थी: संजय सिंह

आप-सरकार के अच्छे काम से क्यों डर गई बीजेपी : संजय सिंह

आम आदमी पार्टी इस मुद्दे को प्रचार के दौरान लोगों के सामने उठाएगी और भाजपा को बेपर्दा करेगी: संजय सिंह

नई दिल्ली, 9 अक्टूबर 2019

आम आदमी पार्टी ने बुधवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल को कोपनहेगन में सी-40 क्लाइमेट समिट में शामिल होने की अनुमति नहीं देने को लेकर भारतीय जनता पार्टी शासित केंद्र सरकार की कड़े शब्दों में निंदा की। केंद्र सरकार की ओर से केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि अनुमति इसलिए नहीं दी गई क्योंकि शिखर सम्मेलन “महापौर-स्तरीय” प्रतिभागियों के लिए था। संजय सिंह ने कहा कि “यह केंद्र द्वारा किया जाने वाला एक बहुत बड़ा बहाना है कि शिखर महापौरों का था और श्री अरविंद केजरीवाल जी सीएम हैं। इससे पहले दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय श्रीमती शिलाला दीक्षित भी इसमें शामिल हुई थीं और वह भी सीएम थीं।”

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में दिल्ली सरकार के अथक परिश्रम के कारण शहर के प्रदूषण में 25% की कमी आई है। “दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस समिट में इसी बात पर चर्चा करने जा रहे थे कि किस प्रकार दिल्ली ने ऑड-ईवन जैसे विभिन्न चरणों के माध्यम से इस तरह के परिवर्तन को कैसे प्राप्त किया। लेकिन केंद्र ने उनकी यात्रा की अनुमति नहीं दी और यह दिल्ली के लोगों का अपमान है।” उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार ने आज केंद्र से यात्रा की अनुमति नहीं देने के बारे में अंतिम संचार प्राप्त किया।

संजय सिंह ने दिल्ली के शिक्षा मंत्री श्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन के साथ भी इसी तरह की कृत का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा “यह पहली बार नहीं है जब केंद्र ने ऐसा किया है, इससे पहले उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री श्री मनीष सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री श्री सत्येंद्र जैन के साथ भी ऐसा ही हुआ था। दोनों को दिल्ली सरकार की उपलब्धियों के बारे में बात करने के लिए विदेशों में जाने से मना कर दिया गया था। दिल्ली की शिक्षा क्रांति के मॉडल की दुनिया भर में चर्चा हो रही है लेकिन दिल्ली के शिक्षा मंत्री श्री मनीष सिसोदिया को उस मॉडल को दुनिया के सामने पेश करने की अनुमति नहीं दी गई। श्री सतेंद्र जैन के साथ भी यही हुआ जब वह मोहल्ला क्लिनिक प्रोजेक्ट के बारे में बात करने वाले थे, जो पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा चर्चा में आने वाले हेल्थ मॉडल में से एक है। “

उन्होंने भाजपा से पूछा कि वे दिल्ली सरकार और उसके काम से क्यों डरते हैं? “भाजपा केजरीवाल सरकार द्वारा किए गए कार्यों से क्यों डरती है? पिछले कुछ वर्षों में, दिल्ली सरकार ने शिक्षा और स्वास्थ्य की गुणवत्ता में सुधार करके एक उल्लेखनीय काम किया है। अब, हर सरकारी स्कूल में अच्छा बुनियादी ढांचा, शिक्षा की अच्छी व्यवस्था, छात्रों के लिए विश्व स्तरीय हॉकी मैदान हैं, लेकिन केंद्र नहीं चाहता कि हम दुनिया को इन उपलब्धियों के बारे में बताएं। इस तरह भाजपा दिल्ली सरकार को दुनिया के सामने भारत का झंडा बुलंद करने से रोक रही है।

उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार ने लगभग डेढ़ महीने पहले अनुमति मांगी थी। संजय सिंह ने कहा, “पश्चिम बंगाल के शहरी विकास मंत्री ने एक सप्ताह पहले ही आवेदन किया था और अनुमति मिल गई थी। लेकिन मुख्यमंत्री केजरीवाल को अनुमति नहीं मिली क्यों?

संजय सिंह ने प्रधानमंत्री की विभिन्न बैठकों का उदाहरण भी दिया जो विदेश में हुईं। “जब हमारे प्रधानमंत्री विदेश जाते हैं, तो वे विभिन्न क्षेत्रों के लोगों से भी मिलते हैं और यह स्वाभाविक है कि इस तरह बैठकें होनी चाहिए। पीएम केवल राज्यों के प्रमुखों से नहीं मिलते हैं, बल्कि वे सभी से मिलते हैं और ऐसा ही होता है।” फिर आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार के साथ ऐसा क्यों नहीं होगा?

संजय सिंह ने यह भी कहा कि पार्टी अगले चुनाव के लिए प्रचार करते समय इस मुद्दे को दिल्ली की जनता तक ले जाएगी। उन्होंने कहा, “चुनाव आ रहा है और आम आदमी पार्टी, दिल्ली के लोगों के सामने इस मुद्दे को पुरज़ोर तरीके से उठाएगी, कि केंद्र सरकार दुनिया के सामने दिल्ली में हुए विकास कार्यों को पेश करने की अनुमति नहीं देती। हम भाजपा सरकार के गलत इरादे और मानसिकता जनता को दिखाएंगे।”

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

Leave a Comment