Scrollup

काले धन के मुद्दे पर सरकार अपनी जिम्मेदारी से नहीं भाग सकती : संजय सिंह

केवल बड़ी-बड़ी बातें करने से कुछ नहीं होगा भाजपा सरकार को आर्थिक भगौड़ों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करनी पड़ेगी: संजय सिंह

नई दिल्ली 25 जून 2019

एक बयान जारी करते हुए राज्यसभा सांसद एवं आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने कहा कि वित्त मंत्रालय की स्टैंडिंग कमेटी द्वारा काले धन को लेकर जो रिपोर्ट दी गई है वह बेहद ही चिंतनीय है।

उन्होंने कहा कि यह बेहद ही चौंकाने वाली बात है, कि भाजपा जो दो बार काले धन के मुद्दे को लेकर देश की सत्ता में आई, आज वह कह रही है, कि विदेशों में जो अनुमानतः 9 लाख 41 हज़ार करोड़ रुपए गरीबों, किसानों और मजदूरों के हक का पैसा कालाधन के रूप में, चंद नेताओं, उद्योगपतियों और अधिकारियों ने लूटकर रखा है, उसे नहीं लाया जा सकता। यह बड़े ही शर्म की बात है कि हिंदुस्तान दुनिया के 5 शीर्षतम काला धन रखने वाले देशों में शुमार हो गया है।

मेरा मानना है कि अगर विदेशों में जमा काला धन वापस आ जाए, तो देश में बेरोजगारी को कम किया जा सकता है, किसानों के कर्जे माफ किए जा सकते हैं, किसानों को उनकी फसल का डेढ़ गुना दाम दिया जा सकता है, माताओं बहनों की सुरक्षा के लिए जरूरी कदम उठाए जा सकते हैं, नए स्कूलों, कॉलेजों एवं अस्पतालों का निर्माण किया जा सकता है। राष्ट्र के निर्माण में यह पैसा अहम भूमिका निभा सकता है।

केवल बैठकर बड़ी-बड़ी बातें करने से कुछ नहीं होगा। भाजपा की केंद्र सरकार को कड़े कदम भी उठाने पड़ेंगे। कुछ नीरव मोदी, विजय माल्या जैसे लोग जो देश का हजारों करोड रुपए लूटकर विदेश में बैठे हुए, भारत सरकार को चिड़ा रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करनी पड़ेगी। केंद्र सरकार को बताना पड़ेगा कि सरकार ने जो फ़्यूजिटिव इकोनॉमिक ऑफेंडर बिल बनाया था, उसका क्या हुआ? आर्थिक भगौड़ों के खिलाफ सरकार ने क्या कार्यवाही की।

काला धन इसी देश के लिए एक बहुत बड़ा मुद्दा था और है। सरकार अपनी बात से पीछे नहीं हट सकती। सरकार को काले धन पर कार्यवाही करनी ही पड़ेगी। आज देश के नौजवानों को, बेरोजगारों को, मजदूरों को, किसानों को, माताओं बहनों को इस मुद्दे पर एकजुट होकर आवाज उठानी पड़ेगी।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

Leave a Comment