Scrollup
0

निगम की मिलीभगत से बेसमेंट में चल रहा था स्कूल

इंडियन स्कूल की औचक निरीक्षण में मिली 23 क्लास रूम वाली गौर कानूनी बेसमेंट – सौरभ भारद्वाज निगम की मिलीभगत से बेसमेंट में चल रहा था स्कूल – सौरभ भारद्वाज याचिका समिति के चेताने के एक साल बाद भी नहीं हुई कार्रवाई – सौरभ भारद्वाज नई दिल्ली

0

महंगी प्याज़ पर भाजपा चुप क्यों है?

राज्यसभा में आम आदमी पार्टी के नेता श्री संजय सिंह ने मंगलवार 3 दिसंबर 2019 को प्याज घोटाला और पूरे मामले पर भाजपा की केंद्र सरकार की रहस्यमय चुप्पी पर निम्नलिखित बयान जारी किया: आम आदमी पार्टी के सदस्यों ने प्याज के मेगा घोटाले पर भाजपा की केंद्र सरकार क

0

बड़े बेटे की तरह पांच साल में मैंने दिल्ली का ख्याल रखा

मुझे आम जनता की परेशानी का एहसास, इसी कारण किए इतने काम – अरविंद केजरीवाल सीएम ने कहा बड़े बेटे की तरह ही पांच साल में मैंने दिल्ली का ख्याल रखा, क्योंकि मुझे आम आदमी का दर्द पता है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शहीद रूपेश गुर्जर के सम्मान स

1

लोगों को कानून नहीं, हाथ में रजिस्ट्री चाहिए – अरविंद केजरीवाल

हमें केंद्र सरकार से आदेश मिले, हम 15 दिन में सबके हाथ में रजिस्ट्री दे देंगे – अरविंद केजरीवाल रजिस्ट्री के नाम पर पिछले काफी सालों से जनता से हो रहा धोखा, अब प्रक्रिया नहीं सिर्फ रजिस्ट्री चाहिए – सीएम नई दिल्ली – लोगों को कानून नहीं र

दिल्ली कैबिनेट मंत्री इमरान हुसैन ने श्री राम विलास पासवान को पत्र लिखा

केंद्र सरकार की ओर से प्याज देने से इनकार करने पर केंद्रीय मंत्री श्री रामविलास पासवान को दिल्ली के मंत्री इमरान हुसैन का पत्र आदरणीय महोदय, इस पत्र के माध्यम से मैं आपका ध्यान राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन फेडरेशन ऑफ इंडिया (नाफेड) द्वारा दिल्ली में बेचने

0

मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने डीएसएफडीसी के अधिकारियों को ट्रेनिंग दी

अनुसूचित जाति/जनजाति मंत्रालय, दिल्ली सरकार मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने डीएसएफडीसी के अधिकारियों के द्वारा बोर्ड मेंबर्स को 50 हजार रुपए तक के लोन को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए ट्रेनिंग दी। सभी जोनल ऑफिस में एक सहायता डेस्क भी बनाया। वेलफेय

0

बाबा साहेब के सपनों को दिल्ली सरकार पूरा कर रही है – अरविंद केजरीवाल

संविधान के कारण भारत एक साथ भी है और खूब तरक्की भी कर रहा है- सीएम कांस्टीट्यूशन एट 70 कैंपेन के समापन सत्र को मुख्यमंत्री ने किया संबोधित नई दिल्ली – भारत का संविधान इतना बेहतर है कि अगर एक दिन के लिए उसे इमानदारी से लागू कर दिया जाए तो देश को दुनि