Scrollup

Entrepreneurship mindset curriculum का फ्रेमवर्क हुआ जारी

बुधवार को दिल्ली सरकार ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों में कक्षा 9 से 12 तक के लिये Enterprenuership mindset Curriculum का फ्रेमवर्क जारी कर दिया।

 

इसके लिए आयोजित कार्यक्रम में प्रख्यात उद्यमी पद्म भूषण धर्मपाल गुलाटी बिन्नी बंसल और कृष्णा यादव उपस्थित रहे।

 

इस पाठ्यक्रम में ज्यादातर जोर बेहतरीन उद्यमी बनने की चरित्र पर है न की व्यवसाय आधारित पाठ्यक्रम को जोर दिया गया है।

 

बच्चों में उद्यमिता की भावना का विकास करने के लिए दिल्ली सरकार आने वाले साल से स्कूली बच्चों को ₹1000 और कॉलेज के बच्चों को ₹5000 की राशि उद्यम शुरू करने के प्रयोग हेतु देगी।

 

बुधवार को दिल्ली सरकार ने अपने सरकारी स्कूलों में 9वीं से 12वीं तक के बच्चों के लिए Enterprenuership mindset Curriculum का फ्रेमवर्क Thyagaraj Sports Complex  आयोजित भव्य कार्यक्रम में जारी किया यह साल 2018 से शुरू किए गए हैप्पीनेस करिकुलम के बाद पाठ्यक्रम सुधार की दिशा में दूसरा बड़ा कदम है।

प्रसिद्ध उद्यमी और पद्मा भूषण सम्मानित धर्मपाल गुलाटी जो एमडीएच मसाला उद्योग के संस्थापक है उन्होंने कार्यक्रम की शोभा बतौर मुख्य अतिथि बढ़ाई इस अवसर पर दिल्ली सरकार के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, फ्लिपकार्ट के संस्थापक  बिन्नी बंसल, श्री कृष्णा आचार के संस्थापक कृष्णा यादव और दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव विजय कुमार देव उपस्थित रहे।

पाठ्यक्रम की रूपरेखा को एससीईआरटी ने तैयार किया है और इसका उद्देश्य नवीं से बारहवीं तक के बच्चों के बीच बेहतर उद्यमी के चरित्र को कहानियों और प्रयोगों के द्वारा समझाना रहेगा।

कार्यक्रम में धर्मपाल जी ने बिन्नी बंसल जी ने और कृष्णा यादव जी ने अपने उद्यमिता के जीवन की शुरुआती संघर्ष के बारे में बच्चों को बताया और उन्हें प्रेरणात्मक कहानियां सुनाई तीनों ही अतिथियों ने उम्मीद जताई कि दिल्ली सरकार कई कार्यक्रम बच्चों के जीवन में सकारात्मक बदलाव लाएगा।  फ्लिपकार्ट के संस्थापक बिन्नी बंसल जी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि इस कार्यक्रम के जरिए अब दिल्ली के सरकारी स्कूलों के बच्चे जॉब खोजने वालों की जगह जॉब देने वाले बनेंगे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दिल्ली सरकार के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा यह पाठ्यक्रम विश्व के लिए एक उदाहरण बनेगा इस पाठ्यक्रम के शुरू होने के बाद इसके जरिए देश की बेरोजगारी की समस्या का समाधान निकलेगा और दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के जरिए दिल्ली के स्कूल विश्व के सर्वश्रेष्ठ बनेंगे।

यह भी कहा कि इस पाठ्यक्रम के जरिए बच्चों की सोचने की प्रक्रिया में क्रांतिकारी बदलाव आएगा और वह अपने शिक्षकों द्वारा पढ़ाई जाने वाली चीजों के प्रति खोजी रवैया अपनाएंगे।  इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री ने पाठ्यक्रम को बनाने वाली टीम के सदस्यों को बधाई दी और इस पूरे कार्यक्रम की रूपरेखा को तैयार करने वाले तमाम लोगों के प्रति आभार प्रकट किया।

सरकार द्वारा नौकरियां देने की सीमित क्षमता की स्थिति को बताते हुए श्री सिसोदिया ने कहा कि “किसी भी देश की अर्थव्यवस्था नौकरी पाने वालों से नहीं नौकरी देने वालों से बनती है” और इस पाठ्यक्रम को उन्होंने इस दिशा में बेहद अहम कदम बताया। उन्होंने कहा कि विभिन्न उद्योगपतियों के जीवन के बारे में पढ़ने पर पता चलता है कि किसी भी छात्र को उद्यमी बनाने में उसके माइंडसेट का अहम योगदान होता है।

इस अवसर पर एक अहम घोषणा करते हुए उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि आने वाले शैक्षणिक सत्र से दिल्ली के सरकारी स्कूल और कॉलेजों में एंटरप्रेन्योरशिप की मानसिकता को बढ़ावा देने के लिए स्कूली बच्चों को ₹1000 और कॉलेजों के बच्चों को ₹5000 प्रति वर्ष किए जाएंगे जिसका उपयोग वे छोटी-छोटी एंटरप्रेन्योरशिप गतिविधियों में कर सकेंगे।

तुम को संबोधित करते हुए दिल्ली के मुख्य सचिव विजय कुमार देव ने कहा कि या पाठ्यक्रम दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों बड़े सपने देखने उसके दिशा में सकारात्मक कदम उठाने के लिए प्रेरित करेगा।

पाठ्यक्रम की शुरुआत के संबंध में शुभकामना संदेश के रूप में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखित संदेश भेजा की  “यह पाठ्यक्रम बच्चों के मन में छिपी हुई संभावनाओं को उजागर करने उनके लिए प्रगति का रास्ता तैयार करने में और हमारे राष्ट्र की तरक्की के रास्ते खुलने में बेहद उपयोगी साबित होगा।”

OFFICE OF THE DEPUTY CHIEF MINISTER
GOVT. OF NCT OF DELHI
***

 Enterpreneurship Mindset Curriculum Framework.pdf

Ø  Iconic entrepreneurs – Padmabhushan Mahashay Dharampal Gulati and Deputy Chief Minister, Shri Manish Sisodia launch Entrepreneurship Mindset Curriculum Framework in Government Schools for Classes IX to XII.
Ø  “This curriculum will unleash the inner potential of the child and set an example in the nation to empower our students with human facets and mindsets to make them future ready”- Chief Minister, Shri Arvind Kejriwal
Ø  Entrepreneurship Mindset Curriculum Framework focuses on imparting the personality and character traits of successful entrepreneurs, than sheer business aspects of entrepreneurship.
Ø  Deputy Chief Minister announces to grant Entrepreneurial seed money worth Rs. 1000 for school students for class 11th and 12th and Rs. 5000 for college students from the next year onwards.
Ø  If, the youth of this country and learns entrepreneurship and becomes job givers rather than job seekers, one day India will become superpower in the world- Chief Secretary, Shri Vijay Dev

New Delhi: 13/02/2019

The iconic entrepreneur and businessman Padmabhushan Mahashay Dharampal Gulati, Founder of MDH Spices and Deputy Chief Minister of Delhi, Sh. Manish Sisodia today launched the Delhi government’s path-breaking Entrepreneurship Mindset Curriculum Framework for government schools, in the Capital, in a function organized by SCERT in the presence of Chief Secretary Delhi, Shri Vijay Dev, co-founder of Flipkart, Binny Bansal, Krishna Yadav founder of Shri Krishna Pickles  at Thyagaraj Sports Complex, New Delhi.

This is the second innovative measure in curricular reforms taken by the Government of Delhi, after the launch of Happiness Curriculum in July 2018.

The Entrepreneurship Mindset Curriculum Framework was developed by State Council of Educational Research and Training (SCERT). It will be implemented the government school of Delhi from classes IX to XII and will build awareness and knowledge of various aspects entrepreneurship among the students.  This curriculum will inspire students through various entrepreneurial stories, case studies and many mindfulness activities and approaches.  It focuses on imparting the personality and character traits of successful entrepreneurs other than the business aspects of entrepreneurship.

Padmabhushan Mahashay Shri Dharampal Gulati, Binny Bansal and Krishna Yadav narrated their inspirational success stories, as they had humble beginning and faced enormous difficulties on their way to envious success.  All of them were optimistic about the scope of the newly launched Entrepreneurship Mindset Curriculum, in instilling entrepreneurial skills and values in the minds of the younger generation. Bansal, co-founder of Flipkart hoped that this initiative will be instrumental in changing the mindset of students towards entrepreneurship, and making the students job makers than job seekers.

Shri Sisodia said, “By launching the Entrepreneurship Mindset Curriculum Framework, Delhi government set an example for the entire world”, He Said “This curriculum will solve the employment issues in the country, and enable the schools in Delhi to become the best among the world”.

“The Entrepreneurship Mindset Curriculum Framework will invariably bring about a paradigm shift in the education system in the way students explore and learn and in the manner teachers facilitate and guide these exploratory processes”, Shri Sisodia added.

He congratulated everyone who worked hard to materialize this landmark initiative, specially mentioning the team members behind this ambitious project and solicited ideas and contributions from various stakeholders.

While acknowledging the limitations of the governments to provide jobs for all, Shri Sisodia anticipated a viable solution in this regard, by promoting entrepreneurship and creating visionary entrepreneurs. “Nation’s economy is not built by job seekers but by job providers”, he asserted. Also, he emphasized that entrepreneurial mindset is required for all professionals to be successful in their career. “Success stories of various professionals and public servants testify it”, he said.

Shri Sisodia announced that Delhi government will give entrepreneurial seed money worth Rs. 1000 for school children of 11th and 12th standard and Rs. 5000 to college students. The cost of this scheme – approximately 40 – 50 crore will be allocated by the Delhi government in the next financial year onwards.

Shri Vijay Kumar Dev, Chief Secretary of Delhi, said that entrepreneurial mindset will enable the students to dream big and pursue actual entrepreneurial initiatives, while addressing the event. He said that righteousness is must for achieving the goal in life for becoming self reliant. He further said that  if, the youth of this country and learns entrepreneurship and becomes job givers rather than job seekers, one day India will become superpower in the world.

“This curriculum will unleash the inner potential of the child and set an example in the nation to empower our students with human facets and mindsets to make them future ready” reads a message by Shri Arvind Kejriwal in the curricular framework document, released by the State Council of Educational Research and Training (SCERT).
****

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

Leave a Comment