Scrollup

*अपने 24 प्रकोष्ठों के साथ दिल्ली के चुनावी प्रचार प्रसार को और तेज करेगी आम आदमी पार्टी*
*चुनावी प्रचार प्रसार को और तेज़ करने के लिए आम आदमी पार्टी ने अपने 24 फ्रंटलों को भी दिल्ली के चुनावी रण में उतारने का फैसला किया : गोपाल राय*
*नई दिल्ली 24 अप्रैल 2019*
बुधवार को एक बयान जारी करते हुए दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने कहा कि आगामी दिनों में आम आदमी पार्टी अपने 24 प्रकोष्ठों के साथ दिल्ली में अपने प्रचार अभियान को और तेज करेगी।
गोपाल राय ने बताया कि आगामी दिनों में आम आदमी पार्टी अपने प्रचार अभियान को नई रणनीतियों के तहत और तेज करने जा रही है। नई रणनीतियों के तहत पार्टी अपने 24 प्रकोष्ठ जिनमें महिला विंग, सीनियर सिटीजन विंग, यूथविंग, लीगल सेल, सोशल मीडिया, छात्र संगठन, एसवीएस विंग, डॉक्टर्स विंग, माइनॉरिटी विंग, एससीएसटी विंग, ओबीसी विंग, पूर्वांचल विंग, उत्तराखंड विंग, साउथ इंडियन विंग, झुग्गी झोपड़ी सेल, रेहड़ी पटरी विंग, किराएदार विंग, आरडब्लूए विंग, ग्रामीण मोर्चा, ऑटो विंग, ई रिक्शा विंग, अध्यापक प्रकोष्ठ, नॉन टीचिंग विंग, दिल्ली रिसर्च एसोसिएशन शामिल है, को भी चुनावी रण में उतारेगी।
इन सभी प्रकोष्ठों का अपना अपना एक परचा तैयार किया जाएगा। जिसमें दिल्ली सरकार द्वारा इन सभी प्रकोष्ठों से संबंधित समाज के लिए अब तक क्या काम किए गए हैं, और दिल्ली पूर्ण राज्य बनेगा तो संबंधित समाज को क्या लाभ होंगे, उन सभी बातों का विवरण होगा। यह सभी प्रकोष्ठ उस पर्चे को लेकर दिल्ली की जनता के बीच जाएंगे और जनता को समझाने का काम करेंगे।
इसके अलावा पार्टी की ओर से एक सेंट्रल कैंपेन भी चलाया जाएगा। जिसके तहत प्रचार के लिए प्रत्येक दिन किसी एक प्रकोष्ठ की जिम्मेदारी तय की जाएगी। इस कार्यक्रम के तहत जिम्मेदार प्रकोष्ठ के दिल्ली प्रदेश के समस्त संगठन पदाधिकारी वहां मौजूद रहेंगे।
इन 24 प्रकोष्ठों में से 11 प्रकोष्ठ के प्रचार अभियान के लिए समय तय कर लिया है, जो कि निम्न प्रकार से है….
27.04.2019 – यूथ विंग
28.04.2019 – पूर्वांचल विंग
29.04.2019 – छात्र विंग
30.04.2019 – झुग्गी झोपड़ी सेल
01.05.2019 – एसवीएस विंग
02.05.2019 – किरायदार विंग
03.05.2019 – माइनॉरिटी विंग
04.05.2019 – रेहड़ी पटरी विंग
05.05.2019 – ऑटो विंग
06.05.2019 – एससीएसटी विंग
07.05.2019 – आरडब्ल्यूए विंग
बाकी प्रकोष्ठा के प्रचार कार्य का दिन जल्द ही तय करके साझा किया जाएगा।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

dilip.panicker@gmail.com

1 Comment

    • John Ferns

      As election is now already done with the EVM, now AAP should demand to Count 50% VVPAT of each Seat. If EVM votes & VVPAT votes does not match then VVPAT votes must consider the correct votes and declare VVPAT the winner.

      reply

Leave a Reply to John Ferns Cancel reply