Scrollup

” सीलिंग की फीलिंग कराने मीनाक्षी लेखी के घर पर पहुंचे व्यापारी ”

दिल्ली में सीलिंग को शुरू हुए एक साल पूरा हो चुका है।
सीलिंग की मार झेल रहे व्यापारियों की आवाज उठाने के लिए आम आदमी पार्टी की ट्रेड विंग ने एक सीलिंग की फीलिंग अभियान की शुरुआत की है, जिसके तहत ट्रेड विंग अपने साथ पीड़ित व्यापारियों को लेकर बीजेपी के सांसदों के घर जाएगा, जहां सांसदों को एक मांग पत्र भी दिया जाएगा जिसमें संसद सत्र में सीलिंग को रुकवाने के लिए बिल पास कराने की बात लिखी होगी।
इसी कड़ी में आज आप ट्रेड विंग के कन्वीनर और नई दिल्ली लोकसभा के प्रभारी बृजेश गोयल के नेतृत्व में सैकड़ों व्यापारी नई दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी के आवास पर पहुंचें और ज्ञापन दिया ।
बृजेश गोयल ने बताया कि इस अभियान का मुख्य उद्देश्य है कि बीजेपी के सातों सांसद इस बात को समझ सकें कि अपनी रोजी रोटी पर ताला लगने के बाद कोई व्यक्ति किस हाल में होता है और कैसा महसूस कर रहा होता है।
दिल्ली में सीलिंग 22 दिसंबर 2017 को शुरू हुई थी। शनिवार को इस सीलिंग रूपी दैत्य को एक साल पूरा हो गया ।
वर्ष 2017 से लेकर आज तक दिल्ली में हजारों लोग अपनी रोजी रोजगार से हाथ धो बैठे हैं, उनमें न केवल व्यापारी बल्कि उनके यहां काम करने वाले कर्मचारी भी शामिल हैं।
इस एक साल में दिल्ली के सातों सांसद, जो केंद्र सरकार में शासित बीजेपी से हैं ने व्यापारियों के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया। न तो केंद्र सरकार पर सीलिंग को रुकवाने के लिए अध्यादेश लाने का दबाव बनाया और न ही संसद में बिल लाने पर जोर दिया।
यह आलम तब है जब जगह जगह के पीड़ित व्यापारियों ने इन सभी बीजेपी सांसदों से मदद मांगी और उनके दरवाजे खटखटाए।
एक साल तक बगैर किसी काम धंधे के बहुत लंबा समय होता है। घर का सारा हिसाब किताब बिगड़ जाता है। लेकिन इस बात से हमारे सांसद महोदयों को क्या लेना देना है।
कल सभी लोग पश्चिमी दिल्ली के सांसद प्रवेश वर्मा के आवास पर पहुंचेंगे
इस तरह से बारी-बारी से सभी सांसदों को नींद से जगाने का प्रयास होगा। अगर सांसद नहीं जागे तो आगामी लोकसभा चुनाव में दिल्ली की जनता खुद उन्हें जगा देगी।

 

” AAP Traders wing protest at Lekhi House on sealing issue ”

A year has completed for sealing in Delhi.
To lift the voices of traders who have been hit by sealing, the Aam Aadmi Party’s Trade Wing has launched a sealing ki feeling campaign, under which the trade wing will go to the house of BJP MPs with the traders suffering from them, where a demand for MPs The letter will also be given in which Parliament should discuss the issue of passing the bill for the sealing to be stopped in the session.
In the same link today, hundreds of traders reached the residence of New Delhi MP Meenakshi Lekhi, under the leadership of Brijesh Goyal, the Convenor of Trade Wing and New Delhi Lok Sabha incharge and gave a memorandum.
Brijesh Goyal said that the main objective of this campaign is that seven BJP MPs can understand the fact that after getting the lock on their bread butter & how taders are suffering & feeling.
Sealing started in Delhi on December 22, 2017. On Saturday, this sealing-shaped monster is completed one year.
From 2017 till today, thousands of people have lost their jobs in Delhi; they include not only businessmen but also workers working here.
In this one year, seven MPs from Delhi, who are from the BJP ruled by the central government, did not take any concrete steps for traders. Neither the central government has put pressure on the ordinance to stop sealing, nor emphasis on bringing a bill in Parliament.
This is when the distressed businessmen of the place asked all these BJP MPs to help and knock their doors.
For a year, there is a long working time for any business. The whole account of the house gets spoiled. But what does this have to do with our MPs?
Tomorrow all people will visit West Delhi MP Verma’s residence
In this way, alternating efforts will be made to wake all MPs from sleep. If MPs do not wake up, the people of Delhi will wake him in the coming Lok Sabha elections.

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

1 Comment

    • John Ferns

      DICTATORSHIP ORDERS OF BJP TO THE PEOPLE OF INDIA
      “GST, DEMONETISATION, EVM & AADHAR CARD”
      GST Has Broken The Backbone Of Middle Class Indian Businessmen!
      DEMONETISATION Has Broken The Backbone Of Lower Class Indians!
      EVM Has Snatches The Voting Rights Of Higher, Lower & Middle Class Indians!
      AADHAR CARD Has Trespasses The Privacy Of Higher, Lower & Middle Class Indians!

      reply

Leave a Comment