Scrollup

 

उत्तर-भारतीयों पर भाजपा का अत्याचार जारी : AAP

एक बार फिर दिल्ली के गलियारों में भाजपा के गुंडों ने यूपी-बिहार के लोगो के साथ की मारपीट : AAP

महाराष्ट्र में यूपी और बिहार के लोगो के प्रति भाजपा की घ्रणित मानसिकता पूरे देश ने देखी थी। महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार है और भाजपा के राज में किस प्रकार से यूपी और बिहार के लोगो को सड़क पर दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया ये पूरे देश ने देखा था। जिसके कारण हजारो लोगो को वहां से पलायन करना पड़ा था। एक बार फिर भाजपा ने अपनी पूर्वांचल विरोधी विचारधारा का प्रमाण दिया है। देवली के अस्थल मंदिर में छठ पूजा के आयोजन की तैयारियों के दौरान भाजपा के गुंडों ने वहां पर आकर पूर्वांचल के लोगो के साथ मारपीट की। भाजपा के ही पूर्वांचल प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष चन्दन कुमार चौधरी भी वहां मौजूद थे, उनके साथ भी भाजपा के लोगो ने मारपीट की, महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार किया, उनके कपडे तक फाड़ दिये।

सोमवार को हुई एक प्रेस वार्ता में पत्रकरों से बातचीत करते हुए दक्षिणी दिल्ली के लोकसभा प्रभारी राघव चड्ढा ने कहा कि इस देश में एक ऐसी पार्टी है, जो लोगो को धर्म के नाम पर बांटने का काम करती है। जब वो धर्म के नाम पर बांटने में विफल होती है, तो जात-पात के नाम पर बांटने का प्रयास करती है, और जब जात-पात के नाम पर भी नहीं बाँट पाते तो प्रांत के नाम पर इस देश की जनता को बांटने का काम करती है। ये किसी से भी छुपा नहीं है कि भाजपा पूर्वांचलियों के प्रति घ्रणित मानसिकता रखती है। आए दिन अखबारों और न्यूज़ चेनलों के माध्यम से भाजपा शासित राज्यों में भाजपा के लोगो द्वारा पूर्वांचलियों के साथ मारपीट की घटनाएँ देखने में आती रहती है।

जैसा की आपको ज्ञात होगा की दिल्ली में भाजपा के द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भाजपा के लोगो ने ही भाजपा के पूर्वांचल मोर्चा के जिला अध्यक्ष चन्दन कुमार चौधरी और उनके साथियों को सडको पर दौड़ा- दौड़ा कर पीटा था, कल फिरसे भाजपा के कुछ गुंडों ने चन्दन कुमार और उनके साथियों के साथ उस वक़्त मारपीट और गाली गलोच की जब वह लोग देवली के एक अस्थल मंदिर में छठपूजा के आयोजन की तय्यारियों में लगे हुए थे। घटना स्थल पर मौजूद लोगो के मुताबिक भाजपा के गुंडों ने छठ समिति से, उस लोकसभा से भाजपा के सांसद को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित करने के लिए कहा, जब समिति ने इस बात से इंकार कर दिया तो उन लोगो ने समिति के लोगो से मारपीट शुरू कर दी। न केवल चंदन कुमार और उनके साथियों के साथ मारपीट की बल्कि वहां मौजूद महिलाओं को भी नहीं बक्शा। महिलाओं के साथ धक्का-मुक्की और गाली गलोच की, उनके कपडे तक फाड़ दिये।

राघव चड्ढा ने प्रेस कोंफ्रेन्स में एक विडियो दिखाते हुए कहा की ये विडिओ खुद भाजपा के लोगो ने रिकॉर्ड किया है, जिसे भाजपा पूर्वांचल के जिला अध्यक्ष चन्दन कुमार ने सोशल मीडिया पर वायरल किया। इस विडिओ में आप खुद देख सकते हैं की किस तरह से चन्दन कुमार रो रहे हैं और पूछ रहे है कि कब तक मुझे इसी प्रकार से मेरे प्रान्त के नाम पर पीटा जाएगा। भाजपा सत्ता के नशे में शायद ये भूल गई है की आज वो जो सत्ता में बैठे हैं, उसमे सबसे बड़ा योगदान यूपी और बिहार के लोगो का ही रहा है। यूपी और बिहार ही वो प्रदेश है जहाँ से भाजपा को सबसे ज्यादा सीटें मिली और नरेंद्र मोदी जी आज प्रधान मंत्री की गद्दी पर बैठे हैं।

एक तरफ आम आदमी पार्टी है जिसने दिल्ली में 1000 छठघाटों का प्रबंध किया है ताकि दिल्ली में रहने वाले लाखों पूर्वांचल के लोग बिना किसी परेशानी के छठपर्व मना सके। दिल्ली में 28 अकटूबर को एक उत्तर भारत स्वाभिमान यात्रा का आयोजन किया जिसमे हजारों लोगो ने हिस्सा लिया। और वही दूसरी और भाजपा है जो अपने ही पार्टी के पूर्वांचल के कर्मठ कार्यकर्ताओं और नेताओं को सडको पर दौड़ा दौड़ा कर पीट रही है। मीडिया के माध्यम से राघव चड्ढा ने केंद्र सरकार और प्रशासन से कुछ प्रश्न भी पूछे जो की निम्न प्रकार हैं……..

-12 दिन पहले भी चन्दन कुमार चौधरी के साथ भाजपा के लोगो ने मारपीट की थी, और चन्दन कुमार खुद पुलिस में शिकायत करने गए थे, अभी तक उनकी FIR दर्ज क्यूँ नहीं की गई?

-एक तरफ मनोज तिवारी पुलिस के आला अधिकारीयों को पीट रहे हैं, और दूसरी तरफ भाजपा के लोगो खुले आम पूर्वांचलियों को पीट रहे हैं, दिल्ली में कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी किसकी है?

– यूपी बिहार के लोग जिन्होंने मोदी जी को प्रधानमंत्री की सीट पर बिठाया, उनके साथ दिल्ली और देश के अलग-अलग राज्यों में जो मारपीट की घटनाएँ हो रही हैं, क्या मोदी जी इस पर अपनी चुप्पी कब तोड़ेंगे?

यह बड़ी ही विचारनीय बात है कि अगर भाजपा के लोग अपने ही पार्टी के पूर्वांचल मोर्चा के जिला अध्यक्ष और उनके साथियों के साथ इस प्रकार का व्यवहार कर सकते हैं तो दिल्ली में रहने वाले साधारण यूपी और बिहार के लोगो के प्रति वो केसी मानसिकता रखते होंगे।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

Leave a Comment