Scrollup

*छात्र संगठन, मजदूर संगठन एवं राजनीतिक पार्टी दिल्ली में आम आदमी पार्टी के समर्थन में उतरे*
 
*सीपीआई (एमएल) की सीसी सदस्य सुचेता डे, जेएनयु छात्र संघ के अध्यक्ष एन साईं बालाजी, AICCTU के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष संतोष राय, AISA की दिल्ली प्रदेश अध्यक्षा कंवलप्रीत कौर ने अपने अपने संघटन की और से दिल्ली के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को पूर्ण रूप से समर्थन दिया।*
*नई दिल्ली 1 मई 2019*
बुधवार को एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के उत्तर पूर्वी दिल्ली से लोकसभा प्रत्याशी दिलीप पांडे ने कहा कि आम आदमी पार्टी दिल्ली की सातों सीटों पर पूरे दमखम के साथ चुनाव लड़ रही है। पिछले 1 साल से आम आदमी पार्टी के सातों प्रत्याशी दिल्ली के सभी इलाकों में घर-घर जाकर लोगों से बातचीत कर रहे हैं, और पूर्ण राज्य के मुद्दे पर उनको समझाने का प्रयास कर रहे हैं। उसी श्रृंखला में आम आदमी पार्टी अब अपने इस कैंपेन को अगले चरण में ले जाने की तैयारी कर रही है।
दिल्ली के अंदर हमने उन सभी संगठनों से, जो यह मानते हैं कि देश के संविधान को बचाने के लिए मोदी और शाह की जोड़ी को वापस गुजरात भेजना बहुत जरूरी है, सहयोग की अपील की। इसी कड़ी में हमने कांग्रेस से भी बातचीत की थी परंतु कांग्रेस के लिए पार्टी को बचाना देश को बचाने से पहले है।
दिलीप पांडे ने कहा कि पिछले 1 साल में दिल्ली के अंदर बहुत सारे संगठनों ने आम आदमी पार्टी को समर्थन दिया। उसी कड़ी में आज सीपीआई (एमएल) की सीसी सदस्य सुचेता डे, जेएनयु छात्र संघ के अध्यक्ष एन साईं बालाजी, AICCTU के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष संतोष राय, AISA की दिल्ली प्रदेश अध्यक्षा कंवलप्रीत कौर हमारे साथ इस प्रेस वार्ता में मौजूद हैं, और इन सभी के संगठनों ने दिल्ली के चुनाव में आम आदमी पार्टी को पूर्ण रूप से समर्थन दिया है। यह समर्थन केवल मौखिक नहीं होगा। यह सभी संगठन और इनसे जुड़े हुए सभी लोग दिल्ली में अपने अपने स्तर पर पदयात्रा, जनसंपर्क अभियान, नुक्कड़ सभाएं एवं अन्य सभी प्रकार के माध्यमों के द्वारा दिल्ली की जनता को समझाने का काम करेंगे और आम आदमी पार्टी के लिए समर्थन मांगेंगे।
प्रेस वार्ता में मौजूद सीपीआई एम एल की सदस्य सुचेता डे ने कहा कि आज मैं मीडिया के माध्यम से अपनी पार्टी की ओर से दिल्ली के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को पूर्ण रूप से समर्थन देती हूं, और हमारा संगठन दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर भाजपा को भारी बहुमत से शिकस्त देने के लिए आम आदमी पार्टी के प्रत्याशियों के लिए प्रचार का काम भी करेगा। यह फैसला हमने इसलिए लिया क्योंकि पिछले 5 सालों में इस देश के ऊपर जो गुजरा है, वह आजाद भारत के इतिहास में शायद कभी नहीं गुजरा हो।
अच्छे दिन का नारा देकर भाजपा देश की सत्ता में आई लेकिन पिछले 5 सालों में देश के युवाओं पर, छात्रों पर, किसानों पर और महिलाओं पर जो अत्याचार भाजपा ने किया, वह पूरे देश ने देखा, और आज पूरे देश की जनता भाजपा को सत्ता से बाहर निकालने के लिए एकजुट हो रही है।
दिल्ली में जो परिस्थितियां है वह पूरे देश की जनता ने देखी है, कि किस प्रकार से प्रचंड बहुमत से चुनी हुई एक सरकार के जनहित के कार्यों को रोकने के लिए भाजपा ने उपराज्यपाल के कार्यालय का दुरुपयोग कर, दिल्ली सरकार द्वारा गरीब जनता को दी जाने वाली सुविधाओं को रोकने का काम किया। किस प्रकार से भाजपा ने दिल्ली में मेट्रो का किराया बढ़ाकर जनता की जेब पर डाका डाला। दिल्ली के व्यापारियों को बर्बाद करने के लिए दिल्ली में सीलिंग करवाई।
प्रेस वार्ता में मौजूद AICCTU के प्रदेश अध्यक्ष संतोष राय ने बताया कि आज मजदूर दिवस के मौके पर हमने अपने सभी कार्यालयों में झंडारोहण किया। उसके पश्चात सभी कार्यालयों में तानाशाह भाजपा को देश की सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए, दिल्ली में आम आदमी पार्टी के सातों प्रत्याशियों को समर्थन देने एवं उनके समर्थन में प्रचार करने का ऐलान किया गया। उन्होंने कहा मजदूर दिवस के मौके पर हर साल हम एक रैली का आयोजन करते हैं। आज भी रामलीला मैदान से एक रैली निकलेगी और शाम को टाउन हॉल में हमारे संगठन की बैठक का आयोजन है, उस बैठक में भी दिल्ली में सातों लोकसभा सीटों पर आम आदमी पार्टी के प्रत्याशियों का समर्थन करने और उनके समर्थन में प्रचार करने का ऐलान किया जाएगा।
उन्होंने बताया कि जब से केंद्र में मोदी जी की सरकार आई है, जो ट्रेड यूनियन के 44 कानून थे, भाजपा ने कॉरपोरेट को फेवर करते हुए 4 में सीमित करके रख दिया। हमारे अधिकार जो बाबा भीमराव आंबेडकर जी ने लडकर हमारे लिए, संविधान में शामिल करवाए, भाजपा ने उसको खत्म करने का का किया है। केवल यही नही भाजपा ने मालिक और मजदूर के बीच का जो एक्ट था, उसको भी कमजोर करने का काम किया। भाजपा ने मजदूरों को कुचलने के लिए, उनकी आवाज़ दबाने के लिए, एक ऐसा बिल बनाया है जिसके तहत मजदूर अब कोई ट्रेड यूनियन बना भी नही सकते।
उन्होंने बताया कि भाजपा के खिलाफ इन सभी अत्याचारों के विरोध में देश के कोने कोने में लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। हाल ही में मजदूरों ने केंद्र सरकार के खिलाफ 2 दिन की हड़ताल भी की। दिल्ली में जिस प्रकार से केंद्र सरकार द्वारा मजदूरों पर अत्याचार किया जा रहा है, और दिल्ली सरकार द्वारा मजदूरों के हक में किए जा रहे कार्यों को रोका जा रहा है, उससे पूरे देश के मजदूर जगत में भाजपा के प्रति भारी रोष एवं गुस्सा है।
इस बार पूरे देश का मजदूर वर्ग इकट्ठा होकर भाजपा को हराएगा, और दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सातों सीटों पर उनके प्रत्याशियों के लिए घर घर जाकर वोट मांगेग। आम आदमी पार्टी के लिए प्रचार प्रसार का काम करेगा।
जेएनयू के छात्र संगठन अध्यक्ष ओम साईं बालाजी ने कहा कि मोदी सरकार ने जिस तरह से इस देश के छात्रों का, युवाओं का दमन किया, जिस प्रकार से विश्वविद्यालयों को देशद्रोही घोषित करके बंद करने की कोशिश की गई, वह देश की जनता ने, देश के युवाओं ने, छात्रों ने देखा है। किस तरह से देश के सैकड़ों वर्ष पुराने विश्वविद्यालयों को बंद करने की साजिश चल रही है, और किस प्रकार से जियो यूनिवर्सिटी को प्रमोट किया जा रहा है, यह देश का छात्र व युवा अच्छी तरह से समझ रहा है
हमने दिल्ली में युवाओं और छात्रों के लिए सैकड़ों आंदोलन किए हैं। आज देश के संविधान को भाजपा से बचाने की बेहद जरूरत है, और उसी के मद्देनजर हमने तय किया है कि दिल्ली में भाजपा के सबसे मजबूत विरोधी आम आदमी पार्टी के सातों प्रत्याशियों के लिए दिल्ली की जनता से घर-घर जाकर वोट की अपील करेंगे, और दिल्ली की सातों सीटों पर भाजपा को हराने में आम आदमी पार्टी का सहयोग करेंगे।
प्रेस वार्ता में मौजूद AISA की दिल्ली प्रदेश अध्यक्षा कंवलप्रीत कौर ने कहा कि पिछले 5 सालों में भाजपा ने जिस तरह से कैंपस के अंदर छात्रों के बीच में आपसी रंजिश का जो माहौल बनाया। जिस तरह से छात्रों के मिलने वाले फंड में कटौती की, जिस तरह से यूनिवर्सिटीज में जो स्वतंत्रता के साथ अपने वक्तव्य अपना पक्ष रखने की आजादी को खत्म करने की कोशिश की, यह पूरे देश और पूरी दिल्ली के छात्रों ने देखा है। भाजपा की इस दमनकारी नीति के खिलाफ आज पूरे देश का छात्र एकजुट होकर खड़ा है, और पूरे देश के छात्रों ने यह ठान लिया है कि इस बार भाजपा को हराकर सत्ता से उखाड़ बाहर फेंकना है।
उन्होंने कहा जिस तरह से भाजपा ने छात्रों पर झूठे सिडिशन के चार्ज लगवाए, जिस तरह से यूपीएससी की सीटों में कटौती करी, छात्रों के हक की आवाज उठाने वालों के साथ जिस तरह से कैंपस में मारपीट की गई, इन सभी परिस्थितियों को देखते हुए हमने तय किया है कि दिल्ली के चुनाव में हमारा संगठन आम आदमी पार्टी का समर्थन करेगा, आम आदमी पार्टी के 7 प्रत्याशियों के लिए चुनाव प्रचार का काम करेंगे। दिल्ली के सभी विद्यार्थियों को आम आदमी पार्टी को वोट देने के साथ साथ उनके लिए प्रचार करने की भी अपील करेंगे।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

dilip.panicker@gmail.com

1 Comment

    • Gautam Buddha

      message

      reply

Leave a Reply to Gautam Buddha Cancel reply