Scrollup

नई दिल्ली, 4 मई 2019

प्रचार रणनीतियों के तहत शनिवार को नई दिल्ली लोकसभा में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के रोड शो का आयोजन किया गया। नई दिल्ली लोकसभा से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी बृजेश गोयल के समर्थन में किया गया रोड शो का आयोजन।

रोड शो के दौरान जगह-जगह जनता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का मालाएं पहनाकर और फूल बरसा कर स्वागत किया। जनता ने अरविंद केजरीवाल जिंदाबाद, आम आदमी पार्टी जिंदाबाद के नारों के साथ जीत की शुभकामनाएं दी।

रोड शो के दौरान जनता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की बाकी 6 लोकसभा सीटों की तरह ही नई दिल्ली लोकसभा से भी भाजपा की ही सांसद है। चुनाव के टाइम पर मीनाक्षी लेखी जी वोट मांगने तो इन इलाकों में आती थी, लेकिन विकास के नाम पर सभी मौन हो जाते थे। आम आदमी पार्टी पहली ऐसी पार्टी है जिसने नई दिल्ली लोकसभा के विकास के बारे में सोचा।

आज दिल्ली का व्यापारी भाजपा की नकारात्मक नीतियों से बर्बाद हो चुका है। पहले नोटबंदी फिर जीएसटी और उसके बाद सीलिंग की मार ने दिल्ली के व्यापारियों को दर-दर भटकने के लिए मजबूर कर दिया है। दिल्ली के लोगों ने भाजपा के सातों सांसदों को जिता कर संसद में भेजा, परंतु एक भी सांसद ने दिल्ली के व्यापारियों के हक में आवाज नहीं उठाई। किसी ने भी सीलिंग के विरोध में संसद के अंदर आवाज नहीं उठाई।

आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी बृजेश गोयल जो कि अभी कोई सांसद भी नहीं है, आप ही की तरह एक आम नागरिक है, एक आम व्यापारी हैं। एक आम इंसान होने के बावजूद भी दिल्ली के व्यापारियों के साथ सैकड़ों संघर्ष किए, दिल्ली में हो रही सीलिंग के विरोध में कई धरना प्रदर्शन किए, केंद्र सरकार से सीलिंग को रुकवाने की अपील करी, दिल्ली में सीलिंग को रोकने के हर संभव प्रयास किए, और हर कदम पर व्यापारियों के साथ खड़े रहे।

जो व्यक्ति सांसद ना रहते हुए इतना कुछ कर सकता है अगर वह जीत कर संसद में जाएगा तो सोचो तो दिल्ली की जनता के लिए दिल्ली के व्यापारियों के लिए क्या कुछ नहीं करेगा।

नई दिल्ली लोकसभा में बड़े स्तर पर गरीब जनता भी है। आज तक किसी भी सरकार ने यहां के लोगों के स्वास्थ्य की सुद नहीं ली। किसी भी पार्टी में इस क्षेत्र के बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए अच्छे स्कूलों की व्यवस्था करने के बारे में नहीं सोचा। आम आदमी पार्टी पहली पार्टी है जिसने दिल्ली के स्कूलों में शिक्षा व्यवस्था को सुधारा और आज उसका नतीजा यह है कि परसों आए 12वीं क्लास के नतीजों में सरकारी स्कूलों ने प्राइवेट स्कूलों से अच्छा परफॉर्मेंस करके दिखाया है। सरकारी स्कूलों के बच्चों ने प्राइवेट स्कूलों के बच्चों को पछाड़ा है।

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में रहने वाले लोगों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए अस्पतालों में सभी इलाज और दवाइयां मुफ्त करने के साथ-साथ, इस इलाके में कई सारे मोहल्ला क्लीनिकों का भी निर्माण किया है। इन मोहल्ला क्लीनिकों में भी सभी प्रकार की दवाइयां, 21 प्रकार के टेस्ट और सभी इलाज मुक्त किए जाते हैं। आज नई दिल्ली लोकसभा की जनता को इलाज के लिए दर दर नहीं भटकना पड़ता। आज नई दिल्ली की जनता को इलाज के लिए डॉक्टर को मोटी मोटी फीस देने की जरूरत नहीं पड़ती।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इतने सारे काम होने के बावजूद भी अभी दिल्ली का संपूर्ण विकास अधूरा है, और उसका केवल एकमात्र कारण है दिल्ली का पूर्ण राज्य न होना। अगर दिल्ली पूर्ण राज्य होता तो बृजेश गोयल को और दिल्ली के व्यापारियों को केंद्र सरकार के सामने गिड़गिड़ाना नहीं पड़ता, दिल्ली के व्यापारियों को धरने प्रदर्शन, विरोध प्रदर्शन, और आंदोलन नहीं करने पड़ते, दिल्ली की सरकार 1 दिन के अंदर दिल्ली में चल रही सीलिंग को बंद करवा देती। पिछले 4 साल से नए अस्पताल बनाने के लिए, नए कॉलेज और विश्वविद्यालय बनाने के लिए, हम जो केंद्र सरकार से जमीन मांग रहे हैं, वह हमें मांगनी नहीं पड़ती। दिल्ली में अब तक कई अस्पताल और नए कॉलेज एवं विश्वविद्यालयों की स्थापना हो चुकी होती।

दिल्ली के अंदर लाखों लोग झुग्गी बस्ती एरिया में रहने को मजबूर हैं। हम केंद्र सरकार से झुग्गी वालों के लिए पक्के मकान बनाने के लिए जमीन मांगते हैं। केंद्र सरकार की डीडीए हमें जमीन नहीं देती, परंतु वही जमीन भू माफियाओं के साथ मिलकर बेच दी जाती है। अगर दिल्ली पूर्ण राज्य होता तो हमें केंद्र सरकार से जमीन मांगने की जरूरत नहीं पड़ती, और दिल्ली में झुग्गियों में रहने वाले लोगों को अब तक पक्के मकान मिल गए होते।

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में बहुत सारे विकास के काम किए। परंतु कुछ काम ऐसे हैं जो केंद्र सरकार की अड़चनों की वजह से हम नहीं कर पा रहे हैं। अगर दिल्ली पूर्ण राज्य होता तो केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार के विकास कार्यों में कोई अड़ंगा नहीं लगा पाती।

जनता को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस बार जो चुनावी आंकड़े सामने आ रहे हैं, उसके हिसाब से गठबंधन की सरकार देश में बनने जा रही है। आप सभी दिल्ली में आम आदमी पार्टी के 7 प्रत्याशियों को जिता कर संसद में भेजिए। हमने तय किया है कि जो पार्टी दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाएगी, हमारे सातों प्रत्याशी उसी पार्टी को समर्थन देंगे। साथ ही साथ हमारे प्रत्याशी संसद में पहुँच कर दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य के अधिकार की मांग करेंगे। दिल्ली पूर्ण राज्य बनेगा तो 1 दिन के अंदर अध्यादेश लाकर दिल्ली में चल रही सीलिंग को रुकवाएँगे।

उत्तर-पश्चिम लोकसभा के बवाना में दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय की विशाल जनसभा

नई दिल्ली 4 मई 2019

शनिवार को दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने उत्तर-पश्चिम लोकसभा के प्रत्याशी गुगन सिंह के समर्थन में बवाना निर्वाचन क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित किया।

जनसभा को संबोधित करते हुए गोपाल राय ने बताया कि आज तक भाजपा और कांग्रेस पार्टियों ने उत्तर पश्चिमी लोकसभा को बाहरी कैंडिडेट दिया। आम आदमी पार्टी पहली पार्टी है जिसने गांव के ही एक किसान के बेटे गुगन सिंह को क्षेत्र से चुनावी मैदान में उतारा है। पहली बार किसी पार्टी ने स्थानीय व्यक्ति को लोकसभा प्रत्याशी बनाया है।

दिल्ली की जनता ने दो बार कांग्रेस के भी सातों प्रत्याशियों को जीता कर आजमा लिया और 2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी जी के कहने पर भाजपा के 7 प्रत्याशियों को भी जीता कर आजमा लिया। दोनों ही पार्टियों ने गांव के किसानों के साथ केवल धोखा किया। बड़े-बड़े वादों के आधार पर वोट तो ले लिया परंतु जीतने के बाद पलट कर गांव की तरफ देखा भी नहीं।

आम आदमी पार्टी पहली ऐसी सरकार है जिसने दिल्ली के किसानों को सबसे ज्यादा मुआवजा ₹20000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से दीया। आम आदमी पार्टी हर गरीब का, हर किसान का, हर मजदूर का दर्द समझती है।

गांव की जनता से आम आदमी पार्टी को वोट देने की अपील करते हुए गोपाल राय ने कहा कि आप लोगों ने बाहरी लोगों को तो बहुत बार जिताया जो एरोप्लेन से उड़कर आपके इलाके में आए, वोट लिया, जीते और एरोप्लेन में बैठ कर वापस चले गए। पहली बार आपके बीच आप ही के क्षेत्र से आम आदमी पार्टी ने अपना प्रत्याशी उतारा है। जो गांव के लोगों की समस्याओं को, किसानों की समस्याओं को बेहतरी से समझता है। इस बार अपने बीच के प्रत्याशी को जिताने और बाहरी को हराने के लिए वोट करें, इस बार अपने गांव के विकास के लिए वोट करें, इस बार आम आदमी पार्टी को वोट करें।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

1 Comment

    • John Ferns

      AAP GETS ANTI-CONGRESS VOTES
      Below are the evidence that AAP gets anti-Congress votes.
      (1) AAP won 4 MP Seats from Punjab last time due to AAP was against Congress but won only 1 Seat from Punjab this time due to AAP was not against Congress.
      (2) AAP won MLA Seat only in Punjab and not in any other State. This means that Punjab people are very angry on Congress and hence Punjab Voters shifted from their traditional party to AAP.
      (3) Congress ruled Delhi for 15 Years. That means Delhi has Congress voters. This means all Congress voters voted AAP in Delhi.
      So, AAP must always remain anti-Congress and anti-BJP. This will make AAP the alternative of Congress & BJP.
      Secondly, AAP lose in anti-Congress State due to EVM Manipulations. So, AAP must fight to Close the system of voting through EVM and Start voting through BALLOT Paper.
      AAP lose due to its Soft stand on Congress and secondly due to EVM Manipulations.

      reply

Leave a Comment