Scrollup

” दिल्ली में 54 सर्विसेज को इंडस्ट्री गतिविधि का दर्जा मिला , FAR भी बढा ”

दिल्ली में 54 सर्विसेज को इंडस्ट्रियल एक्टिविटी का दर्जा मिल गया है और इनके मौजूदा और नये इंडस्ट्रियल एरिया में संचालन का रास्ता भी साफ हो गया है ।
इसकी जानकारी आज दिल्ली के उद्योग मंत्री सतेन्दर जैन ने फैक्ट्री मालिकों के साथ दिल्ली सचिवालय में एक मीटिंग के दौरान दी ।
मीटिंग का नेतृत्व कर रहे आप ट्रेड विंग के संयोजक बृजेश गोयल ने बताया कि साॅफ्टवेयर , आईटी , एच आर , एकाउंटिंग , पब्लिशिंग , आर्किटेक्चर , ट्रैवल टूरिज्म ,
मीडिया , एजुकेशन , पैकेजिंग , रिसर्च , बायोटेक्नोलोजी , वेयरहाउसिंग जैसी कई महत्वपूर्ण गतिविधियां मास्टरप्लान के औद्योगिक लैंडयूज के अनुरूप नहीं होने के चलते कई मामलों में कमर्शियल एक्टिविटी के रूप में ट्रीट की जाती थी जिसके कारण सिविक एजेन्सियां इनसे भारी भरकम कन्वर्जन चार्ज और कमर्शियल रेट पर प्राॅपर्टी टैक्स भी वसूलती थी जिससे इनको राहत मिल जाएगी ,
बृजेश गोयल ने बताया कि दिल्ली सरकार के उद्योग मंत्री सतेन्दर जैन ने डीडीए को इसके लिए अनुशंसा की थी जिसको डीडीए ने मानते हुए 9 श्रेणियों में 54 सर्विस गतिविधियों को औद्योगिक क्षेत्रों में संचालित करने योग्य करार दे दिया है , इसके लिए मास्टरप्लान में संशोधनों को बोर्ड ने मंजूरी दे दी है ।
इन सभी गतिविधियों को नये और पुराने मौजूदा इंडस्ट्रियल एरिया में इंडस्ट्रियल एक्टिविटी का दर्जा प्राप्त होगा ।
इसके साथ ही इंडस्ट्रियल एरिया में फ्लोर एरिया रेशो FAR को 150 से बढाकर 200 कर दिया गया है ,
अब 100 वर्गमीटर के इंडस्ट्रियल प्लाॅट को FAR 200 होने के कारण 200 वर्गमीटर का कवर्ड एरिया मिलेगा जो कि फिलहाल 150 वर्गमीटर ही मिलता है यानि कि अब ग्राउंड कवरेज लगभग 25% बढ जाएगा ।

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

Leave a Comment