Scrollup

चुनाव की वजह से रुकना नहीं चाहिए दिल्ली का विकास, आम बजट में दिल्ली के लिए खूब घोषणाएं करे केंद्र सरकार – अरविंद केजरीवाल

  • आचार संहिता में दिल्ली के लिए नई घोषणाएं नहीं हो सकती लेकिन मेरी केंद्र से अपील बजट में प्रदूषण, सीवर, ट्रांसपोर्ट, यमुना पर हो घोषणाएं – अरविंद केजरीवाल
  • मुझपर आम बजट को टालने के लिए चुनाव आयोग को पत्र लिखने का दबाव था, लेकिन मैं केंद्र को पत्र लिखकर दिल्ली के लिए खूब घोषणाएं करने को कहूंगा – अरविंद केजरीवाल
  • दिल्ली के विकास को राजनीति से परे रखने की जरूरत है, केंद्र खूब घोषणाएं करे फिर जो भी पार्टी जितेगी वह फंड का इस्तेमाल कर दिल्ली का विकास करेगी – अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली –

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि चुनाव के कारण दिल्ली का विकास नहीं रुकना चाहिए। दिल्ली में आचार संहिता के कारण दिल्ली के लिए कोई नई घोषणाएं नहीं हो सकती। इस कारण आम बजट को टालने की सिफारिश करने का मुझपर तमाम दबाव था। जिसे दरकिनार कर मैंने निर्णय लिया है कि चुनाव आयोग से 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट को टालने की सिफारिश नहीं करूंगा। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं केंद्र सरकार को पत्र लिखूंगा कि वह आम बजट में दिल्ली के लिए खूब सारी घोषणाएं करे। बजट में प्रदूषण, सीवर, ट्रांसपोर्ट, यमुना पर खूब घोषणाएं हो। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के विकास को चुनाव से परे रखने की जरूरत है। केंद्र सरकार खूब घोषणाएं करे फिर जो भी पार्टी चुनाव में जीतकर आएगी, वह उस फंड का इस्तेमाल कर दिल्ली का विकास और तेजी करेगी।

अरविंद केजरीवाल पार्टी मुख्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थें। उन्होंने कहा कि आगामी 8 फरवरी को दिल्ली में चुनाव होने हैं और दिल्ली में आचार संहिता लगी हुई है। ऐसे में सरकार किसी भी प्रकार की नई विकास योजनाओं की शुरुआत नहीं कर सकती है। क्योंकि कोई भी नई योजनाओं के ऐलान से मतदाता प्रभावित हो सकते हैं। इसीलिए चुनाव आयोग द्वारा बनाए गए कानूनों के तहत किसी भी नई योजना का ऐलान नहीं किया जा सकता है। इस बीच एक फरवरी को केंद्र सरकार अपना बजट जारी कर रही है ।

दिल्ली का विकास किसी भी कीमत पर नहीं रूकना चाहिए: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पार्टी के भीतर से भी और अन्य कई लोगों के माध्यम से भी, मुझ पर इस बात के लिए दबाव दिया गया कि हम चुनाव आयोग में इसकी शिकायत करें और हर संभव प्रयास किया जाए कि एक फरवरी को मतदाताओं को प्रभावित करने वाला यह बजट केंद्र सरकार द्वारा जारी न किया जाए, लेकिन मैं इस बात से सहमत नहीं हूं। मेरा मानना है कि दिल्ली का विकास किसी भी कीमत पर रुकना नहीं चाहिए। राजनीति को दिल्ली के विकास से अलग रखना चाहिए। इसीलिए हम चाहते हैं कि एक फरवरी को ही केंद्र सरकार का बजट आए। साथ ही, हम यह भी चाहते हैं कि इस बजट में दिल्ली और दिल्ली के लोगों के विकास के लिए भरपूर घोषणाएं की जाए। ताकि दिल्ली के लोगों का भला हो और दिल्ली का विकास और तेजी से हो सके।

दिल्ली को विश्व स्तरीय शहर बनाने के लिए भरपूर बजट का प्रावधान करे केंद्र सरकार : अरविंद केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम सभी दिल्ली का विकास चाहते हैं। सभी पार्टियां अपने-अपने मेनिफेस्टो में भी इस बात को मानेगी कि दिल्ली में प्रदूषण कम होना चाहिए। दिल्ली की यातायात व्यवस्था बेहतर होनी चाहिए। मेट्रो को बढ़ाया जाना चाहिए। यमुना की सफाई होनी चाहिए। घर-घर तक सीवर की लाइन पहुंचने चाहिए। सभी पार्टियां चाहेंगी कि दिल्ली की सफाई होनी चाहिए। हमारा कहना है कि केंद्र सरकार एक फरवरी को जो बजट का ऐलान करेगी, उसमें दिल्ली के प्रदूषण को दूर करने के लिए उचित राशि का प्रावधान किया जाना चाहिए। पंजाब और हरियाणा में जलाई जा रही पराली से निजात दिलाने के लिए जो भी फंड की जरूरत है। केंद्र सरकार उसका प्रावधान करे। जो भी राशि पंजाब और हरियाणा की सरकार को देना उचित बनता है वह दिया जाना चाहिए। हमारा चाहते है कि दिल्ली की यातायात व्यवस्था को विश्व स्तरीय बनाने के लिए, जितनी भी राशि की आवश्यकता है, केंद्र सरकार अपनी इस बजट में दिल्ली सरकार को वह राशि मुहैया कराए। यमुना की सफाई के लिए जितनी भी राशि की आवश्यकता हो, केंद्र सरकार अपने बजट में वह राशि दिल्ली सरकार को मुहैया कराए। हमारा चाहते है कि दिल्ली में रहने वाली जनता के लिए घर-घर तक पीने का स्वच्छ पानी पहुंचाने के लिए जितनी भी राशि की आवश्यकता है, केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार को वह राशि मुहैया कराए। दिल्ली में मेट्रो के विस्तार करने के लिए और संपूर्ण दिल्ली की सफाई के लिए जितने भी फंड की आवश्यकता है, उसे केंद्र सरकार अपने एक फरवरी के बजट में मुहैया कराए। उन्होंने कहा कि सभी पार्टियां यह चाहती भी हैं और सभी पार्टियां यह घोषणाएं भी करेंगी। 8 फरवरी को दिल्ली में चुनाव है। 8 फरवरी के बाद जिस भी पार्टी की दिल्ली में सरकार बनेगी, वह सरकार इस फंड का इस्तेमाल करके तमाम व्यवस्थाओं को सुव्यवस्थित करेगी। मेरा अपना ऐसा मानना है कि राजनीति को परे रखकर हमें इस बजट को देखना चाहिए और इस बजट में दिल्ली वालों के लिए ज्यादा से ज्यादा विकास योजनाओं की घोषणा होनी चाहिए।

नगर निगम को भी राजनीति से दूर रखा जाए और केंद्र सरकार पर्याप्त धन मुहैया कराए – अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इसी प्रकार से हम नगर निगम को भी राजनीति से दूर रखना चाहते हैं। दिल्ली नगर निगम में इस समय फंड की बहुत अधिक कमी है। केंद्र में भी भाजपा की सरकार है और दिल्ली नगर निगम में भी भाजपा की सरकार है। हमारा मानना है और केंद्र सरकार से हमारी अपील भी है, कि केंद्र सरकार दिल्ली नगर निगम को पर्याप्त धनराशि उपलब्ध कराए, ताकि नगर निगम दिल्ली को स्वच्छ रखने की अपनी जिम्मेदारी को बेहतर तरीके से निभा सके। हम इसका समर्थन नहीं करते हैं कि बजट को स्थगित किया जाए। इस बात का भी समर्थन नहीं करते हैं कि इस बजट में दिल्ली के विकास के लिए कोई घोषणा नहीं हो। दिल्ली के विकास को लेकर तमाम घोषणाएं हो। मुझे लगता है कि दिल्ली के विकास को चुनाव में किसी पार्टी के फायदे और नुकसान से दूर रखा जाना चाहिए। दिल्ली के लोगों का विकास जरूरी है। दिल्ली का विकास जरूरी है। मैं केंद्र सरकार को चिटठी लिखूंगा और उनको कहूंगा कि वो चुनाव की चिंता किए बिना इस बजट में दिल्ली के लोगों के लिए जो कर सकते हैं, वो करें।

Press Release

16th January 2020

Appeal to Centre to make announcements for Delhi in Budget even if model code is in place: Arvind Kejriwal

Development of Delhi should not suffer because of elections: Arvind Kejriwal

Centre should allocate funds for Delhi’s issues like pollution, transport, Yamuna cleaning: Arvind Kejriwal

New Delhi: Aam Aadmi Party National Convener and Delhi CM Arvind Kejriwal on Thursday addressed a press conference today at the party’s national headquarters. With the model code of conduct in place for the upcoming Delhi assembly election, no government is permitted to make any fresh announcement for Delhi. However, the Union Budget is set to be announced on 1st February by the Central Government. CM Kejriwal said, “I have been under pressure from all corners to write to the Election Commission objecting to the Budget being announced on 1st February during the period of the model code of conduct being in force. But I am not in favour of stalling the announcement of the Budget government merely for the election. In fact, I would like to appeal to the central government to make new announcements for solving problems that the people of Delhi face. There are so many problems that need to be solved like pollution, Yamuna cleaning, sewerage, etc. The Centre should make announcements on all these issues. Politics should not come in the way of Delhi’s development.”

Briefing the media at the party headquarters, CM Arvind Kejriwal said, “I believe the progress and development of Delhi should not stop at any cost. We would want the budget to include policies and schemes for the progress and development of Delhi.”

Mr. Arvind Kejriwal said that the Central budget must provide adequate funds for the reduction of pollution in Delhi. He said, “They should also provide adequate funds to the state governments of Punjab and Haryana, to take preventive measures on the pollution caused by stubble burning in these states. To bring the transportation sector in Delhi at par with the international standards, the government must provide funds to improve the transport infrastructure in Delhi. Adequate funds must be provided to the Delhi government for cleaning up of river Yamuna, to provide sewer connections to each household, expansion of metro routes in the city, and for the cleaning of Delhi. We want this for the welfare of our state so that any party that forms the government in the state can utilise those funds efficiently.”

Mr. Arvind Kejriwal also pointed out the inadequacy of funds provided to the MCD by the central government. “We also want the MCD to get adequate funds from the central government. The budget from the central government to the MCD will pass through the Delhi government, but we have time and again requested funds for the MCD and have assured the centre that the funds will be transferred to the MCD on the same day.”

“Irrespective of who wins the election on 8 February, whichever party comes to power will then be able to utilise those funds for the people of Delhi,” he added.

“Even if we do not receive adequate support from the central government, we will not let the development of Delhi stop. More funds will accelerate the development process of Delhi but we will keep on working for the people,” said Mr. Kejriwal.

When expressing your views in the comments, please use clean and dignified language, even when you are expressing disagreement. Also, we encourage you to Flag any abusive or highly irrelevant comments. Thank you.

firoz

1 Comment

    • John Ferns

      AADHAR CARD COPY FOR NON-NRIs AND PASSPORT COPY FOR NRIs SHOULD BE THE ONLY DOCUMENT TO GET INDIAN CITIZENSHIP CARD (INDIAN NATIONALITY CARD).

      reply

Leave a Comment