Skip to main content of main site

9 जून को मंदसौर का दौरा करेगा AAP नेताओं का प्रतिनिधिमंडल, 10 जून को देशव्यापी आंदोलन करेगी AAP

किसानों को उनकी लागत से भी कई गुना कम मिलता है समर्थन मूल्य, भाजपा सरकार नहीं सुन रही किसानों की आवाज़
 
9 जून को मंदसौर का दौरा करेगा AAP नेताओं का प्रतिनिधिमंडल, 10 जून को देशव्यापी आंदोलन करेगी AAP
 
 
देश का किसान अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतरने को मजबूर है और देश की भाजपा सरकार ना केवल किसानों की बात को सुन नहीं रही बल्कि किसानों पर गोलियां चलवाई जा रही है। देश में किसानों को उनकी लागत से कई गुना कम समर्थन मूल्य दिया जा रहा है, उद्योगपतियों का लाखों करोड़ का कर्ज़ तो सरकार माफ़ कर रही है लेकिन किसानों का कर्ज़ माफ़ नहीं किया जा रहा। किसानों के इन्ही सब मुद्दों को लेकर 9 जून को आम आदमी पार्टी का एक 5 सदस्ययी प्रतिनिधिमंडल मंदसौर का दौरा करेगा और 10 जून को पार्टी किसानों की मागों के हक़ में सरकार के ख़िलाफ़ देशव्यापी प्रदर्शन करेगी।
 
पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रैस कॉंफ्रेंस में बोलते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने कहा कि आज देश का किसान अपने हक़ की मांग लेकर सड़कों पर उतरने को मजबूर है और सरकार उन किसानों की मांगों को मानने कि बजाए किसानों पर गोलियां चलवा रही है जो बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है। महाराष्ट्र से लेकर मध्यप्रदेश और देश के दूसरे हिस्सों में किसान अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रहा है लेकिन देश और प्रदेशों की भाजपा सरकारें किसानों की बात नहीं सुन रही हैं।'
 
आज अगर किसान दूध उत्पादन करता है तो उससे सिर्फ़ 18 रुपए किलो के हिसाब से दूध लिया जाता है जिसके बाद नेताओं और व्यापारियों की कम्पनियां, डेयरियां और सोसाइटीज़ उस दूध को बाज़ार में 50 रुपए किलो बेचकर मोटा मुनाफ़ा कमा रही हैं, यही हाल प्याज़, कपास, पत्ता गोभी और दूसरी फ़सलों में भी किया जाता है जिसमें किसान को उसकी लागत का कई गुना कम समर्थन मूल्य दिया जाता है और यही वजह है कि आज देश में तकरीबन 35 किसान प्रतिदिन के हिसाब से आत्महत्या कर रहे हैं।'
 
किसानों की आवाज़ को देश और प्रदेशों की भाजपा सरकार नहीं सुन रही है। किसान मांग कर रहे हैं कि उनकी फ़सल का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) बढ़ाया जाए और उनका कर्ज़ माफ़ किया जाए। सिर्फ़ महाराष्ट्र में किसानों का हज़ारों करोड़ का कर्ज़ है जिसे केंद्र की भाजपा सरकार माफ़ नहीं कर रही है जबकि बड़े-बड़े उद्योगपतियों का लाखों करोड़ का कर्ज़ सरकार माफ़ कर देती है। खुद भाजपा ने चुनाव से पहले किसानों का कर्ज़ माफ़ करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य को बढ़ाने का वादा किया था लेकिन चुनाव जीतने के बाद भाजपा अपने वादे भूल जाती है।'
 
 
'किसानों के इन्ही सब मुद्दों को लेकर 9 जून को आम आदमी पार्टी का 5 सदस्ययी प्रतिनिधिमंडल मंदसौर का दौरा करेगा और 10 जून को पार्टी किसानों की मागों के हक़ में सरकार के ख़िलाफ़ देशव्यापी प्रदर्शन करेगी जिसके तहत सभी ज़िला मुख्यालयों पर पार्टी के कार्यकर्ता किसानों की मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपेंगे।' 

 

Related Story

Make a Donation