Skip to main content of main site

गरीब पूर्वांचलियों की बर्बादी पर लड्डू बाँट रहे हैं दिल्ली BJP अध्यक्ष मनोज तिवारी

Date : 14 Dec 2016

गरीब पूर्वांचलियों की बर्बादी पर लड्डू बाँट रहे हैं दिल्ली BJP अध्यक्ष मनोज तिवारी

जिन पूर्वांचलियों का नमक खाया, उनकी पीठ में छुरा भोंका मनोज तिवारी ने

भाजपा की लड्डू बांटो मुहिम गरीबों के साथ क्रूर मजाक

चार लाख  गरीब दिल्ली से भूखे पेट पलायन को मजबूर

जिन पूर्वांचलियों ने हीरो बनाया, उन्हीं की मजबूरी का जश्न मना रहे हैं दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष 

नई दिल्ली.  

दिल्ली BJP अध्यक्ष मनोज तिवारी ने लड्डू बांटकर नोटबंदी की वजह से बेरोज़गार होते लोगों की मजबूरी का मज़ाक उड़ाया है। नोटबंदी के कारण काम-धंधे बर्बाद हो गए हैं जिसकी वजह से पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार से आना वाला बड़ा तबका आज बेरोज़गार हो गया है। दिल्ली में रोजी रोटी छीन जाने के बाद चार लाख से ज्यादा लोग भूखे पेट गाँव लौटानी को मजबूर हुआ है. नोटबंदी की वजह से काम धंधे चौपट हो गए हैं और मज़दूर तबके के हमारे भाई-बहनों की नौकरियां छिन रही हैं। दिल्ली के बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी पुर्वांचली लोगों की नौकरियां छिनने का मज़ाक लड्डू बांटकर उड़ा रहे हैं जो बेहद ही ओछा कार्य है। बीजेपी नोटबंदी की झूठी कामयाबी का जश्न मना रही है लेकिन हक़ीकत यह है कि मोदी सरकार के इस 8 लाख करोड़ रुपए के घोटाले की वजह से देश भर के लोगों की नौकरियां छिन रही हैं और लोगों के काम-धंधे बर्बाद हो गए हैं। 

पार्टी कार्यालय में प्रेस कॉंफ्रेंस को सम्बोधित करते हुए पार्टी के विधायक और पूर्वांचल क्षेत्र से ताल्लुक रखने वाले अखिलेश पति त्रिपाठी ने कहा कि “आज अगर मनोज तिवारी जिस मुकाम पर हैं वो हमारे पुर्वांचली भाई-बहनों की वजह से ही हैं, जिन लोगों ने उनके गानों की सीडी-कैसेट और उनकी फ़िल्मों को देखकर और खरीद उन्हें इस मुकाम पर पहुंचाया, दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी उन्हीं हमारे भाई-बहनों की नौकरियां जाने और उनके बेरोज़गार होने का जश्न लड्डू बांटकर मना रहे हैं।“  अखिलेश पति त्रिपाठी ने कहा कि उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग बेशक गरीब हों पर मनोज तिवारी के घर का चूल्हा उन्हीं गरीब पूर्वांचलियों के पैसे से जलता है. मनोज तिवारी की कीमती शालों और महंगी कारों का खर्च पेटीएम और रिलायंस वाले नहीं उठाते, इनका खर्च गरीब पूर्वांचली ही उठाता है जो दो सौ रुपये का मनी आर्डर अपने घर करता है और बीस रुपये बचाकर मनोज तिवारी का कैसेट लेता था. आज उससे मनोज तिवारी ने धोखा किया है. इसका बदला हर पूर्वांचली भाजपा और मनोज तिवारी से लेगा.

दिल्ली से विधायक और पूर्वांचल क्षेत्र से ताल्लुक रखने वाली बहन वंदना कुमारी ने कहा कि “आज हमारा पूर्वांचल वासी इस नोटबंदी की वजह से बेरोज़गार हो गया है और दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी पूर्वांचल वासियों की इस मजबूरी का मज़ाक उड़ा रहे हैं। लड्डू बाँटना भारतीय संस्कृति में ख़ुशी का प्रतीक माना जाता है। लेकिन बीजेपी और दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी द्वारा लड्डू बांटना और वो भी तब जब पूरा देश आहत है, परेशान है, ये देश की जनता का मज़ाक उड़ाने जैसा है। इस ओछे कदम से कई सारे प्रश्न पैदा होते हैं।आम आदमी पार्टी के बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व से और प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी से 10 सवाल हैं - 

1. नोटबंदी की मार से दिल्ली के बाजार, मंडियाँ सब सूनी हो गयी हैं, व्यापार चौपट हो गया है, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँट रही है?

2. शादियाँ, इलाज तो रुके ही हैं, अब रोटी का इंतज़ाम करना मुश्किल होने लगा है, क्या इस खुशी में लड्डू बाँट रही है बीजेपी?

3. नोटबंदी के नाम पर हुए इस 8 लाख करोड़ के घोटाले में मोदी जी के अमीर दोस्त और अमीर हो गए, बीजेपी के दलाल दोस्त ऐश कररहे हैं, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँट रही है?

4. नोटबंदी के बाद सिर्फ बीजेपी से जुड़े लोगों के पास भरी मात्रा में नए और पुराने नोट बरामद हुए, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँटरही है?

5. नोटबंदी के नाम पर हुए इस 8 लाख करोड़ के घोटाले में बीजेपी ने अपना काला धन सफ़ेद कर लिया, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँट रही है?

6. नोटबंदी से जुड़े मोदी जी के सारे दावे, जैसे आतंकियों की फंडिंग, जाली नोट, काला धन, भ्रष्टाचार सब अब बंद हो जायेंगे, अब झूठे साबित हो चुके, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँट रही है?

7. मनोज तिवारी से ये उम्मीद नहीं थी कि वे पुर्वांचल वासियों के साथ ऐसा भद्दा मज़ाक करेंगे, पर्वांचल के मेहनतकश लोगों का रोजगार छूट रहा है, उनका पलायन हो रहा है, और मनोज तिवारी उनकी इस बुरी हालत पर उनका साथ देने की बजाय लडडू बाँट रहे हैं, क्यों?

8. पाकिस्तान के आतंकियो का साथ देने का आरोप जिस डे ला रु कपनी पर लगा था, उसी को अपने मैसूर प्रेस में नोटों की छपाई का काम दे दिया, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँट रही है?

9. दिल्ली का किसान, मज़दूर, व्यापारी, आढ़ती अब बीजेपी के खिलाफ है जो APMC के चुनाव परिणामों से स्पष्ट हो जाता है, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँट रही है?

10. नोटबंदी के नाम पर हुए इस 8 लाख करोड़ के घोटाले की वजह से देश भर में 90 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, मोदी जी इन मौतों के लिए ज़िम्मेदार हैं, क्या इस खुशी में बीजेपी लड्डू बाँट रही है?

पत्रकारों से बात करते हुए दिल्ली के जनकपुरी से विधायक राजेश रिषी ने कहा कि ‘आज देश का मेहनतकश इंसान भूखा मरने को मजबूर है क्योंकि उसके पास कामधंधा नहीं है। नोटबंदी की वजह से उसका रोज़गार छिन गया है और वो आज परेशान है। यह बड़े शर्म की बात है कि बीजेपी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष लड्डू बांटकर पूर्वांचल वासियों की इस मजबूरी का मज़ाक उड़ा रहे हैं। देश के हर कोने में इसी नोटबंदी की वजह से पूर्वांचल वासियों की नौकरियां जा रही हैं। 

Make a Donation